गरीब बच्चों को निजी स्कूलों में फ्री में दिलायें दाखिला, राज्य परियोजना निदेशक ने सभी बीएसए को भेजा आदेश


गरीब बच्चों को निजी स्कूलों में फ्री में दिलायें दाखिला, राज्य परियोजना निदेशक ने सभी बीएसए को भेजा आदेश

इलाहाबाद। नि:शुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार अधिनियम (आरटीई) 2009 के तहत अब प्राइवेट स्कूलों में गरीब बच्चों को नर्सरी, एलकेजी और यूकेजी में दाखिला मिलेगा। सर्व शिक्ष अभियान के राज्य परियोजना निदेशक जीएस प्रियदर्शी ने सभी बेसिक शिक्षा अधिकारियों को 25 जुलाई को लिखे पत्र में दुर्बल वर्ग के बच्चों को मान्यता प्राप्त प्राइवेट स्कूलों में पूर्व प्राथमिक कक्षाओं में प्रवेश दिलवाने के निर्देश दिए हैं।दरअसल आरटीई के तहत निजी स्कूलों में कक्षा एक की 25 प्रतिशत सीटों पर गरीब बच्चों को प्रवेश दिया जाता है। एक रिपोर्ट के अनुसार 63,750 निजी स्कूलों में कक्षा एक व पूर्व प्राथमिक (नर्सरी, एलकेजी व यूकेजी) में 25,03,968 बच्चों की क्षमता है। इनमें से आरटीई के तहत 6,31,022 बच्चों का दाखिला कराया जा सकता है। मालला दिवस पर शासन ने प्राइवेट स्कूल में 50 हजार गरीब बच्चों के प्रवेश का लक्ष्य रखा था। लेकिन कक्षा एक व पूर्व प्राथमिक कक्षाओं में 25 प्रतिशत सीटों की संख्या छह लाख से अधिक होने के कारण ज्यादा गरीब बच्चों का प्रवेश दिलवाने का निर्देश दिया है।
खबर साभार : हिन्दुस्तान 

Enter Your E-MAIL for Free Updates :   
गरीब बच्चों को निजी स्कूलों में फ्री में दिलायें दाखिला, राज्य परियोजना निदेशक ने सभी बीएसए को भेजा आदेश Reviewed by Brijesh Shrivastava on 5:37 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.