अंतरराष्ट्रीय साक्षरता दिवस पर बोले बेसिक शिक्षा मंत्री - 'तीन महीने में पूरा प्रदेश शिक्षित होगा', प्रेरकों के लंबित मानदेय पर जिम्मेदारों ने साधी चुप्पी 

राज्य साक्षरता मिशन प्राधिकरण की ओर से गुरुवार को रानी लक्ष्मीबाई मेमोरियल सीनियर सेकंडरी स्कूल में 'अंतरराष्ट्रीय साक्षरता दिवस समारोह’ मनाया गया। इस मौके पर प्रदेश के अलग-अलग जिलों से आए प्रेरक और नवसाक्षरों को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि मौजूद बेसिक शिक्षा मंत्री अहमद हसन ने कहा कि समाज को पूरी तरह से शिक्षित किए जाने के लिए संकल्प होना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि आने वाले तीन महीनें में पूरा प्रदेश शिक्षित होगा और देश का सर्वोत्तम प्रदेश बनेगा। 


बेसिक शिक्षा सचिव अजय कुमार सिंह ने कहा कि हमारा लक्ष्य है कि हम सभी बच्चों को शिक्षित करें। अगर हर बच्चा शिक्षित होगा तो आने वाले वक्त में सभी प्रौढ़ शिक्षित होंगे। इस मौके पर विशेष सचिव बेसिक शिक्षा डीपी सिंह, बेसिक शिक्षा सलाहकार श्रीप्रकाश राय, संतराम सोनी, मधुसूदन दीक्षित सहित अन्य मौजूद रहे। 


बेसिक शिक्षा मंत्री ने निदेशक साक्षरता, वैकल्पिक शिक्षा एवं सदस्य सचिव, राज्य साक्षरता मिशन प्राधिकरण को अक्टूबर में रानी लक्ष्मीबाई मेमोरियल सीनियर सेकंडरी स्कूल में ही पांच हजार प्रेरकों और उनके द्वारा पढ़ाए गए नवसाक्षरों को आंमत्रित कर कार्यक्रम किए जाने की बात कही।  सम्मान समारोह में मौजूद प्रेरकों ने कहा कि हमें एक साल से मानदेय नहीं मिला है। ऐसे में कहा जाता है कि नवसाक्षरों को लेकर आइए। कहां से लाएं नवसाक्षर/ अधिकारियों से बात करो तो वह भी टाल देते हैं। हालांकि इस बारे में जब बेसिक शिक्षा मंत्री से पूछा गया तो वह भी देखेंगे कहकर टाल गए।


शिक्षा के क्षेत्र में लोगों को उत्साहित करने के लिए प्रमिला देवी, गोपाल सिंह, मधु देवी, असलम अली, सरिता चौधरी, विवेक कुमार, मीनाक्षी, हरिहर शरण, गायत्री देवी और संतोष कुमार को सम्मानित किया गया। वहीं नवसाक्षरों में नीता यादव, वेद प्रकाश, शांती देवी, राममनोरथ, सुनीता, दिग्विजय सिंह, मृगलोचनी, सुशीला, गंगाधीन, मंशाराम और ओमप्रकाश का सम्मान हुआ। इसके अलावा राज्य स्तर पर साक्षर भारत मिशन के तहत गौतमबुद्ध नगर जेल निरीक्षक मोहम्मद अकरम खान को फिरोजाबाद जेल में कैदियों को साक्षर बनाने के लिए सम्मानित किया गया।

अंतरराष्ट्रीय साक्षरता दिवस पर बोले बेसिक शिक्षा मंत्री - 'तीन महीने में पूरा प्रदेश शिक्षित होगा', प्रेरकों के लंबित मानदेय पर जिम्मेदारों ने साधी चुप्पी  Reviewed by Praveen Trivedi on 6:22 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.