INTERDISTRICT TRANSFER : मियाद खत्म, तीन हजार शिक्षक फंसे, मनचाहा जिला न मिलने पर शिक्षकों ने दिया था प्रत्यावेदन, नहीं हुआ संशोधन


इलाहाबाद : अंतर जिला तबादले में कार्यमुक्त होकर कार्यभार ग्रहण करने की मियाद शनिवार को पूरी हो गई है। मनचाहा जिला पाने की उम्मीद संजोए करीब तीन हजार शिक्षकों को झटका लगा है, क्योंकि उनके तबादले में संशोधन नहीं हो सका है। प्रत्यावेदन देने वाले शिक्षक बीएसए कार्यालय से लेकर बेसिक शिक्षा परिषद मुख्यालय तक दौड़ लगाते रहे पर उन्हें राहत नहीं मिली। तमाम शिक्षकों में आस बरकरार है और दूसरी सूची की राह देखी जा रही है।

सूबे में परिषदीय विद्यालयों में तीन वर्ष बाद अंतर जिला तबादले हुए हैं। 15 हजार से अधिक शिक्षकों को स्थानांतरण का लाभ मिला, जिन्हें मनचाहा जिला मिल गया है उन्होंने कार्यभार ग्रहण भी कर लिया है। सूची में ऐसे शिक्षक भी बहुतायत में है जिन्हें मनचाहा जिला तो मिला है, लेकिन वहां उनके बैच के शिक्षकों का प्रमोशन न होने से पद व आर्थिक नुकसान होना तय है। कई ऐसे भी हैं जिन्हें कम पसंद वाला जिला मिला।


मुख्यमंत्री से मिलकर लगायेंगे प्रत्यावेदन निस्तारण की गुहार

 परेशान शिक्षक-शिक्षिकाएं शनिवार को सचिव बेसिक शिक्षा परिषद कार्यालय और शासन के कार्यालयों का चक्कर लगाते रहे लेकिन न तो उनको राहत मिली न ही उनकी सुनवाई हुई है।वह लोग परेशान होकर अब प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मिलने की तैयारी कर रहे है जिससे कि उनके प्रत्यावेदन का शीघ्र निस्तारण करके उनकी संबंधित जिलों के परिषदीय विद्यालयों में ज्वाइनिंग कराईजा सके।


INTERDISTRICT TRANSFER : मियाद खत्म, तीन हजार शिक्षक फंसे, मनचाहा जिला न मिलने पर शिक्षकों ने दिया था प्रत्यावेदन, नहीं हुआ संशोधन Reviewed by Praveen Trivedi on 6:23 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.