निर्देश के बाद भी एडी बेसिक एवं बीएसए नहीं भेज रहे सेवा पंजिकाएं, कार्रवाई से बचने के लिए शासन के निर्देशों की अवहेलना पर उतारू, निर्देश दरकिनार

इलाहाबाद : शिक्षा विभाग के अफसर कार्रवाई से बचने के लिए शासन के निर्देशों की अवहेलना पर उतारू हैं। तीन माह बाद भी अधिकांश अफसरों ने सेवा पंजिकाएं शिक्षा निदेशालय नहीं भेजी है, जबकि सभी को अनुस्मारक भी भेजा जा चुका है। ऐसे शिक्षा अधिकारियों के विरुद्ध कार्रवाई का प्रस्ताव जल्द ही शासन को भेजे जाने की तैयारी है।


बेसिक शिक्षा विभाग में कार्यरत समूह ‘क’ एवं समूह ‘ख’ के अधिकारियों की सेवा पुस्तिकाएं शिक्षा निदेशालय उप्र को उपलब्ध कराने के निर्देश बीते छह जुलाई को दिए गए थे। इसके बाद निदेशालय की ओर से 17 अगस्त एवं शिक्षा निदेशक बेसिक ने 20 अगस्त को पत्र भेजकर सभी अफसरों से आदेश का अनुपालन करने के लिए अनुस्मारक भेजा। इसके बाद भी अधिकारियों की सेवा पुस्तिकाएं निदेशालय नहीं आ रही हैं।


पिछले दिनों हुई बैठक में बेसिक शिक्षा सचिव अजय कुमार सिंह ने इस रवैये पर नाराजगी जताते हुए कहा कि सेवा पुस्तिकाएं जल्द उपलब्ध कराई जाए, अन्यथा संबंधित अफसरों पर कार्रवाई की जाए। असल में विभागीय अफसर सेवा पुस्तिकाएं भेजने में इसलिए कतरा रहे हैं, क्योंकि निदेशालय में उनकी पंजिका पर तुरत-फुरत कार्रवाई दर्ज हो जाएगी, जबकि अभी वह इससे बच निकलने में कामयाब हो जाते हैं।


शिक्षा निदेशालय में अभी तक केवल चार जिलों श्रवस्ती, चंदौली, एटा एवं कानपुर देहात के बेसिक शिक्षा अधिकारियों की सेवा पुस्तिका प्राप्त हुई है। उप शिक्षा निदेशक ज्ञान प्रकाश सिंह ने सभी मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक बेसिक एवं बेसिक शिक्षा अधिकारियों को पत्र भेजकर निर्देश दिया है कि ‘क’ एवं ‘ख’ वर्ग के अधिकारी जल्द सेवा पंजिका भेजे अन्यथा कार्रवाई का प्रस्ताव शासन को भेजा जाएगा। इससे अफसरों में हड़कंप मचा है।

निर्देश के बाद भी एडी बेसिक एवं बीएसए नहीं भेज रहे सेवा पंजिकाएं, कार्रवाई से बचने के लिए शासन के निर्देशों की अवहेलना पर उतारू, निर्देश दरकिनार Reviewed by Praveen Trivedi on 6:10 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.