20 को सीएम अखिलेश  लेंगे क्लास, स्कूल बंक से बच्चों को बचाने के लिए नवाचार पर रहेगा जोर,  प्रदेश के 18 जनपदों से 60 शिक्षकों को आमंत्रित किया गया

प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव अब गुरु की भूमिका में नजर आएंगे। उनकी पाठशाला में प्रधानाध्यापक और शिक्षक होंगे। इसमें नवाचार पर चर्चा होगी ताकि बच्चों में पढ़ाई के प्रति रुचि बढ़े और वे क्लास बंक न करें। इसके लिए प्रदेश के 18 जनपदों से 60 शिक्षकों को आमंत्रित किया गया है। 



आमंत्रित सभी शिक्षकों को 19 और 20 नवंबर को स्कूलों से दो दिन के लिए कार्यमुक्त करने के आदेश दे दिए गए हैं। मुख्यमंत्री 20 नवंबर को शिक्षकों को विशेष सत्र में संबोधित करेंगे। शिक्षा निदेशक (बेसिक) ने कानपुर नगर समेत कन्नौज, आगरा, इलाहाबाद, गोरखपुर, फरुखाबाद, संभल, वाराणसी, बाराबंकी, अमेठी, बिजनौर, उन्नाव, अलीगढ़, अमरोहा, मिर्जापुर, मेरठ, महोबा और मुरादाबाद के बेसिक शिक्षा अधिकारियों को इस संदर्भ में पत्र भेजे हैं।



 शिक्षा में नवाचार पर जोर अरविन्दो सोसाइटी परिषदीय विद्यालयों में नवाचार शिक्षा पर जोर दे रही है। इसके लिए वह शिक्षकों को प्रशिक्षित भी कर रही है। शिक्षकों से शिक्षण के नए तरीके पूछे जा रहे हैं। इनसे प्रोजेक्ट तैयार कराए जा रहे हैं। उद्देश्य यह है कि पढ़ाई रुचिकर तरीके से हो। बच्चों का इसमें मन लगे और वह कक्षाएं छोड़कर न भागें।



20 नवंबर को लखनऊ में होने वाले कार्यक्रम में 30 शिक्षकों और इनके 30 प्रधानाध्यापकों को भी आमंत्रित किया गया है। यहां मुख्यमंत्री इन शिक्षकों को बताएंगे कि वे परिषदीय शिक्षा को कैसे रुचिकर बना सकते हैं। सभी शिक्षकों को 19 नवंबर को शाम सात बजे तक एससीईआरटी के हॉस्टल में पहुंचना होगा। यहीं शिक्षकों का पंजीकरण भी हो जाएगा। इन शिक्षकों को अपना पहचान पत्र और फोटो भी साथ लाने होंगे।

20 को सीएम अखिलेश  लेंगे क्लास, स्कूल बंक से बच्चों को बचाने के लिए नवाचार पर रहेगा जोर,  प्रदेश के 18 जनपदों से 60 शिक्षकों को आमंत्रित किया गया Reviewed by Sona Trivedi on 7:07 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.