मिड-डे मील के निवाले संग मुख्यमंत्री का प्रचार, चुनाव आयोग ने शिक्षण संस्थानों से राजनीतिक पार्टियों की प्रचार सामग्री हटाने के आदेश किये थे जारी

मुरादाबाद : विधानसभा चुनाव के मद्देनजर आचार संहिता लग चुकी है। ऐसे में राजनीतिक पार्टियों के होर्डिग्स और बैनर उतारने के साथ ही दीवारों पर लिखे स्लोगन भी मिटा दिए गए, लेकिन इसके बाद भी मिड-डे मील के दौरान बच्चों को दी जाने वाली भोजन की थाली के जरिए मौजूदा सरकार का खूब प्रचार हो रहा है। इस पर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की फोटो के साथ ही स्लोगन समेत नाम भी लिखा है। लिहाजा ये आचार संहिता के उल्लंघन के दायरे में है।



अक्टूबर में सरकार ने जिले में मिड-डे मील के लिए बच्चों को एक लाख 19 हजार भोजन की थाली बांटी थीं। इन थालियों का वितरण बेसिक शिक्षा परिषद के कई स्कूलों में आचार संहिता लगने के बाद हुआ। इस पर एक तरफ स्टीकर के माध्यम से सीएम की फोटो है तो दूसरी ओर उनका प्रचार करता स्लोगन भी लिखा है। स्टीकर धुलाई के बाद हट भी जाएंगे, लेकिन स्लोगन सरकार की याद दिलाता रहेगा। बच्चे अभी मतदाता नहीं हैं लेकिन निर्वाचन आयोग ने शिक्षण संस्थानों से राजनीतिक पार्टियों की प्रचार सामग्री हटाने के आदेश जारी किए हैं।

मिड-डे मील के निवाले संग मुख्यमंत्री का प्रचार, चुनाव आयोग ने शिक्षण संस्थानों से राजनीतिक पार्टियों की प्रचार सामग्री हटाने के आदेश किये थे जारी Reviewed by Praveen Trivedi on 8:15 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.