मानदेय में बम्पर बढ़ोत्तरी के आसार : शिक्षामित्रों का मानदेय 10 हजार और अनुदेशकों का मानदेय 17 हजार करने पर बनी सहमति


असमायोजित शिक्षामित्रों के मानदेय बढ़ने के आसार दिख रहे हैं। केन्द्र में हुई बैठक में उनका मानदेय 3500 से बढ़ाकर 10 हजार और अनुदेशकों का मानदेय 7200 से बढ़ा कर 17 हजार करने पर सैद्धांतिक सहमति बन गई है। बीते दिनों दिल्ली में हुई वार्षिक कार्ययोजना (पीएबी) बैठक में केन्द्र ने मानदेय बढ़ाने पर सहमति जता दी है। लगभग 30 हजार शिक्षामित्रों का समायोजन अभी नहीं हो पाया है। वहीं सर्व शिक्षा अभियान के तहत नियुक्त अनुदेशक भी 37 हजार के लगभग हैं। अधिकारियों के मुताबिक, केन्द्र ने इस पर सैद्धांतिक सहमति दे दी है।



कई मामलों में केन्द्र सहमति जता देता है लेकिन बढ़ी हुई धनराशि की जिम्मेदारी राज्य सरकारों पर डाल देता है। ऐसी सूरत में राज्य सरकार के बजट में इसका प्राविधान करना पड़ेगा। लिहाजा स्पष्ट स्थिति के लिए केन्द्र की लिखित मंजूरी का इंतजार करना पड़ेगा। शिक्षामित्र लम्बे समय से 3500 रुपये मानदेय पा रहे हैं और इसे बढ़ाने के लिए संघर्ष कर रहे थे। इस बीच पूर्ववर्ती सपा सरकार 1.60 लाख शिक्षामित्रों का समायोजित करने का निर्णय लिया। इनमें से लगभग 1.30 लाख शिक्षामित्र समायोजित हो चुके हैं। इसके बाद हाईकोर्ट ने शिक्षामित्रों के समायोजन को अवैध बताते हुए इसे रद्द कर दिया था।

मानदेय में बम्पर बढ़ोत्तरी के आसार : शिक्षामित्रों का मानदेय 10 हजार और अनुदेशकों का मानदेय 17 हजार करने पर बनी सहमति Reviewed by Sona Trivedi on 6:39 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.