बेसिक शिक्षा परिषद की वर्तमान में जारी हजारों भर्तियों पर रोक, भर्तियों में भ्रष्टाचार की लगातार मिल रही शिकायतों के बाद उठाया कदम

इलाहाबाद : बेसिक शिक्षा परिषद के विद्यालयों के लिए चल रही भर्तियां भी गुरुवार को रोक दी गई हैं। शासन के निर्देश पर परिषद के सचिव संजय सिन्हा ने सभी बेसिक शिक्षा अधिकारियों को पत्र भेजकर तत्काल प्रभाव से नियुक्तियां प्रक्रिया स्थगित करने का आदेश दिया है। इस कदम से करीब 80 हजार भर्तियां प्रभावित हो रही हैं।



⚫ आदेश देखें क्लिक करके:
प्राथमिक शिक्षकों की सभी गतिमान भर्तियों पर भी लगी रोक, बेसिक शिक्षा परिषद ने सभी  बीएसए को तत्काल प्रभाव से प्रक्रिया रोकने के दिए आदेश



दोपहर बाद से वापस लौटाए गए उर्दू भर्ती की काउंसिलिंग के दावेदार
⚫  बेसिक शिक्षा परिषद सचिव का सभी बीएसए को निर्देश नियुक्तियां स्थगित
⚫  भर्तियों में भ्रष्टाचार की लगातार मिल रही शिकायतों के बाद उठाया कदम



सूबे में सत्ता परिवर्तन के बाद से विभिन्न आयोग व चयन बोर्ड आदि में चल रही भर्ती प्रक्रिया को रोका जा चुका है। इसका कारण भर्तियों में भ्रष्टाचार की तमाम शिकायतें मिलना है। इसी क्रम में बुधवार को बेसिक शिक्षा विभाग की भी सभी भर्तियां तत्काल प्रभाव से रोक दी गई हैं। यहां पर तीन भर्तियों की प्रक्रिया चल रही थी, जबकि एक भर्ती की काउंसिलिंग अगले माह होना प्रस्तावित है। सभी को फिलहाल स्थगित कर दिया गया है। तीनों भर्तिर्यो का आदेश पिछले साल अक्टूबर व दिसंबर में शासन ने दिया था। परिषद के संयुक्त सचिव अशोक कुमार गुप्त ने बेसिक शिक्षा अधिकारियों को भर्तियों पर रोक का लिखित आदेश जारी कर दिया है।



ये भर्तियां अधर में अटकी

★  12460 : प्राथमिक विद्यालयों में सहायक अध्यापक के रिक्त पदों पर नियुक्ति के लिए पहली काउंसिलिंग पूरी हो चुकी है।

4000 : प्राथमिक विद्यालयों में उर्दू शिक्षक के पद पर नियुक्ति के लिए पहले चरण की काउंसिलिंग शुरू हुई।

★  32022 : उच्च प्राथमिक विद्यालयों में अंशकालिक अनुदेशक भर्ती के लिए काउंसिलिंग का कार्यक्रम जारी है

29334 : उच्च प्राथमिक स्कूलों में विज्ञान-गणित विषय की भर्ती में रिक्त सीटों पर नियुक्ति प्रक्रिया चल रही है।

72825 : प्राथमिक स्कूलों के लिए यह शिक्षक भर्ती 2011 से चल रही है, अब भी कुछ हजार पदों पर नियुक्तियां हो रही।



ऑनलाइन आवेदन में हेराफेरी : प्राथमिक विद्यालयों में चल रही 12460 शिक्षकों की काउंसिलिंग में तमाम अभ्यर्थियों ने ऑनलाइन आवेदन में हेराफेरी की शिकायत की थी। इस पर परिषद के अफसरों ने सख्त रुख अख्तियार करके निर्देश दिया था। अफसरों का कहना था कि ऑनलाइन आवेदन पत्र में बदलाव किया जाना संभव नहीं है, यदि ऐसा हुआ है तो यह साइबर क्राइम है और इसकी एफआइआर होनी चाहिए। इस पर अभ्यर्थियों ने मौन साध लिया। वहीं प्राथमिक स्कूलों में चार हजार उर्दू शिक्षकों की भर्ती के लिए काउंसिलिंग चल रही है। भर्ती रोकने का आदेश होने पर तमाम जिलों में अभ्यर्थी आए थे, जिन्हें बीएसए के निर्देश पर वापस लौटा दिया गया। उन्हें बताया गया कि अब आगे जो भी निर्देश होंगे उसका अनुपालन किया जाएगा।

बेसिक शिक्षा परिषद की वर्तमान में जारी हजारों भर्तियों पर रोक, भर्तियों में भ्रष्टाचार की लगातार मिल रही शिकायतों के बाद उठाया कदम Reviewed by Sona Trivedi on 7:16 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.