बीटीसी 2014 और 2015 अवशेष व अनुत्तीर्ण अभ्यर्थियों के साथ साथ अन्य सेमेस्टरों की परीक्षा कार्यक्रम का घोषित, 18 अप्रैल से शुरू होंगी परीक्षाएं

इलाहाबाद : बेसिक टीचर्स ट्रेनिंग यानी बीटीसी 2014 और 2015 अवशेष व अनुत्तीर्ण अभ्यर्थियों की परीक्षा कार्यक्रम का घोषित हो गया है। परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव डा. सुत्ता सिंह ने बताया कि इम्तिहान 18 अप्रैल से शुरू होगा। इसी तरह बीटीसी 2014 के अन्य सेमेस्टरों की समय सारिणी घोषित कर दी गई है। इसमें करीब सवा लाख अभ्यर्थी परीक्षा देंगे।


बीटीसी 2014-15 प्रथम सेमेस्टर (अवशेष या अनुत्तीर्ण)
18 अप्रैल प्रथम प्रश्नपत्र बाल विकास (10 से 12 बजे), द्वितीय प्रश्नपत्र शिक्षण अधिगम के सिद्धांत (2 से 4 बजे), 19 अप्रैल तृतीय प्रश्नपत्र विज्ञान (10 से 11 बजे), चतुर्थ प्रश्नपत्र गणित (12 से 1 बजे), पंचम प्रश्नपत्र सामाजिक अध्ययन (2 से 4 बजे), 20 अप्रैल षष्टम प्रश्नपत्र हंिदूी (10 से 11 बजे), सप्तम प्रश्नपत्र संस्कृत/उर्दू (12 से 1 बजे), अष्टम प्रश्नपत्र कंप्यूटर (2 से 3 बजे) का होगा।



बीटीसी 2014 द्वितीय सेमेस्टर (अवशेष या अनुत्तीर्ण)
21 अप्रैल प्रथम प्रश्नपत्र वर्तमान भारतीय समाज एवं प्रारंभिक शिक्षा (10 से 12 बजे), द्वितीय प्रश्नपत्र प्रारंभिक शिक्षा के नवीन प्रयास (2 से 4 बजे), 22 अप्रैल तृतीय प्रश्नपत्र विज्ञान (10 से 11 बजे), चतुर्थ प्रश्नपत्र गणित (12 से 1 बजे), पंचम प्रश्नपत्र सामाजिक अध्ययन (2 से 4 बजे), 24 अप्रैल षष्टम प्रश्नपत्र हंिदूी (10 से 11 बजे), सप्तम प्रश्नपत्र अंग्रेजी (12 से 1 बजे) का होगा।



बीटीसी 2014 तृतीय सेमेस्टर
25 अप्रैल प्रथम प्रश्नपत्र शैक्षिक मूल्यांकन क्रियात्मक शोध (10 से 12 बजे), द्वितीय प्रश्नपत्र समावेशी शिक्षा (2 से 4 बजे), 26 अप्रैल तृतीय प्रश्नपत्र विज्ञान (10 से 11 बजे), चतुर्थ प्रश्नपत्र गणित (12 से 1 बजे), पंचम प्रश्नपत्र सामाजिक अध्ययन (2 से 4 बजे), 27 अप्रैल षष्टम प्रश्नपत्र हंिदूी (10 से 11 बजे), सप्तम प्रश्नपत्र संस्कृत/उर्दू (12 से 1 बजे), अष्टम प्रश्नपत्र कंप्यूटर शिक्षा (2 से 3 बजे) का होगा। 

बीटीसी 2014 और 2015 अवशेष व अनुत्तीर्ण अभ्यर्थियों के साथ साथ अन्य सेमेस्टरों की परीक्षा कार्यक्रम का घोषित, 18 अप्रैल से शुरू होंगी परीक्षाएं Reviewed by Sona Trivedi on 6:54 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.