15 साल पर तबादले का प्रस्ताव खारिज, समायोजन में कनिष्ठ शिक्षक को ही हटाने पर बनी सहमति, तबादले 50 अंक की वेटेज के आधार पर होंगे, परिषद ने लिए बैठक में कई निर्णय

इलाहाबाद : परिषदीय शिक्षकों का जिले के अंदर और अंतर जिला तबादला करने पर लंबी चर्चा हुई। शिक्षक संघ जिले के अंदर फेरबदल में जिलाधिकारी के बजाय मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक बेसिक यानी एडी बेसिक को जिम्मेदारी देने के पक्ष में था, वहीं कुछ सदस्यों ने जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान डायट प्राचार्य की अध्यक्षता में कमेटी गठित करने का सुझाव दिया।


हालांकि परिषद के प्रस्ताव में इस बार भी डीएम को ही यह जिम्मा सौंपने की तैयारी थी। कहा गया कि जिले को तीन जोन में बांटकर तबादला किया जाए। अधिकांश सदस्य डायट प्राचार्य को यह काम सौंपने के पक्ष में रहे और समायोजन में कनिष्ठ शिक्षक को ही हटाने पर सहमति बनी। अंतर जिला तबादले जुलाई में ऑनलाइन आवेदन लेकर करने का सुझाव दिया गया। इसमें वरिष्ठ शिक्षकों को वरीयता देने और तीन साल के अंतराल पर ही अंतर जिला तबादला करने की बात जोरदारी से उठी।


सदस्यों ने 15 साल पर तबादले के प्रस्ताव को खारिज किया। इसमें तीन जिलों का विकल्प लेने और पूरा अधिकार परिषद को ही सौंपने पर चर्चा हुई। अंतर जिला व जिले के अंदर तबादले 50 नंबर के गुणवत्ता अंक के आधार पर होंगे। साथ ही तबादलों के पहले पदोन्नति होगी।

15 साल पर तबादले का प्रस्ताव खारिज, समायोजन में कनिष्ठ शिक्षक को ही हटाने पर बनी सहमति, तबादले 50 अंक की वेटेज के आधार पर होंगे, परिषद ने लिए बैठक में कई निर्णय Reviewed by Sona Trivedi on 6:55 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.