पहली से 31 जुलाई तक चलेगा स्कूल चलो अभियान, अधिकारियों के साथ  जनप्रतिनिधि भी करेंगे सहयोग

लखनऊ : नि:शुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार अधिनियम-2009 के अन्तर्गत छह से 14 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों का नामांकन विद्यालयों में कराए जाने तथा अभिभावकों को जागरूक करने के लिए एक जुलाई से स्कूल चलो अभियान शुरू किया जाएगा। यह अभियान 31 जुलाई तक चलेगा।

अभियान में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी व अन्य जनपदीय अधिकारी जन प्रतिनिधियों जैसे सांसद, विधायक, जिला पंचायत अध्यक्ष व जिला पंचायत सदस्यों से नामांकन में सहयोग के लिए संपर्क करेंगे। इस संबंध में मुख्य सचिव राहुल भटनागर ने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश भी जारी कर दिए हैं। स्कूल चलो अभियान के अन्तर्गत मेले, संगोष्ठी. रैली, प्रभात फेरी व सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित कर लोगों को जागरूक किया जाएगा।

शिक्षकों व शिक्षामित्रों की जिम्मेदारी होगी कि वे विद्यालय प्रबंध समिति के सदस्यों के साथ अपने विद्यालय से सेवित क्षेत्रों में घर-घर जाकर संपर्क करें। आउट आफ स्कूल बच्चों के अभिभावकों से संपर्क कर शत-प्रतिशत बच्चों के नामांकन विद्यालयों में सुनिश्चित कराना भी जरूरी है। प्राथमिक विद्यालयों में कक्षा एक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों में कक्षा छह में नए नामांकन की सभी कार्रवाई 15 जुलाई तक पूरी करते हुए विद्यार्थियों का नाम रजिस्टर पर दर्ज करना होगा। इसके बाद विद्यालय, विकास खण्ड व जनपद स्तर पर प्रतिदिन नामांकन की प्रगति का अनुश्रवण भी किया जाएगा।

जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी दस अगस्त तक नामांकन का पूरा विवरण राज्य परियोजना कार्यालय को उपलब्ध कराएंगे। जनपद स्तर से एक दल गठित कर स्कूल चलो अभियान का संचालन का अनुश्रवण व पर्यवेक्षण भी कराए जाने के निर्देश दिए गये हैं। राज्य परियोजना कार्यालय के मुताबिक इस बार स्कूल चलो अभियान जुलाई के बाद अक्टूबर में भी चलाया जाएगा। इसकी अवधि 25 अक्टूबर से 25 नवम्बर तक होगी।

पहली से 31 जुलाई तक चलेगा स्कूल चलो अभियान, अधिकारियों के साथ  जनप्रतिनिधि भी करेंगे सहयोग Reviewed by Praveen Trivedi on 8:48 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.