आज होगी सुनवाई : समायोजन के खिलाफ शिक्षकों ने हाईकोर्ट में दायर की याचिका, समायोजन के लिए 30 अप्रैल की छात्रसंख्या को आधार बनाने की दी गयी चुनौती

इलाहाबाद : बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक व उच्च प्राथमिक स्कूलों में हो रहे समायोजन के खिलाफ शिक्षकों ने हाईकोर्ट में याचिका कर दी है। इसकी सुनवाई सोमवार को होगी। याचिका में समायोजन के लिए ली गई 30 अप्रैल की छात्रसंख्या का विरोध किया गया है।




बेशिक शिक्षा नियमावली के अनुसार किसी भी काम के लिए सत्र शुरू होने के तीन माह बाद की छात्रसंख्या ली जाएगी। इसी आधार पर 30 सितम्बर की छात्रसंख्या पूर्व में ली जाती रही है। लेकिन अब सत्र अप्रैल से शुरू होता है तो 30 जून को तीन माह पूरे होते हैं। जून में छुट्टी होती है इसलिए छुट्टी को घटाकर तीन माह लिए जाने चाहिए। लिहाजा 30 जुलाई की छात्रसंख्या ली जानी चाहिए। साथ ही शासन के निर्देश पर जुलाई में चलाए जा रहे नामांकन का भी जिक्र है।





सवाल है कि कि जुलाई में आने वालों बच्चों के लिए टीचर कहां से आएंगे। शासन ने सभी बेसिक शिक्षाधिकारियों को 18 जुलाई तक समायोजन का निर्देश दिया है। लेकिन निर्धारित समय में समायोजन होना मुश्किल लग रहा है। इलाहाबाद में शनिवार को सरप्लस शिक्षकों की सूची जारी कर आपत्तियां मांगी गई है।आपत्तियों के निस्तारण के बाद ही समायोजन के लिए आवेदन लिए जाएंगे। ऐसे में समायोजन में कम से कम 15 दिन का समय और लगने की उम्मीद है।

आज होगी सुनवाई : समायोजन के खिलाफ शिक्षकों ने हाईकोर्ट में दायर की याचिका, समायोजन के लिए 30 अप्रैल की छात्रसंख्या को आधार बनाने की दी गयी चुनौती Reviewed by Sona Trivedi on 7:38 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.