आंगनबाड़ी केंद्रों पर रोज बजेगी कॉल सेंटर की घंटी,  लखनऊ से लिया जा जाएगा आंगनबाड़ी केंद्रों का संज्ञान, कुपोषित बच्चों के प्रति सरकार जागी, दस सवाल हर दिन  जाएंगे पूछे

कुपोषण के खात्मे के लिए सरकार लखनऊ में मेगा कॉल सेंटर खोलने जा रही है। इसके जरिये हर दिन आंगनबाड़ी केंद्रों पर कार्यकर्ताओं को कॉल आएगी। उनसे दस सवाल हर दिन पूछे जाएंगे, जवाब सही मिला तो बच्चों को पुष्टाहार मिलना समझा जाएगा। अन्यथा कार्रवाई होगी। 




मेगा कॉल सेंटर की स्थापना 14 को होगी। बरेली विकास भवन में भी स्थानीय कॉल सेंटर खुलेगा। इसकी मॉनीटरिंग सीडीओ करेंगे। यहां 2800 से अधिक आंगनबाड़ी केंद्र हैं। इनमें साढ़े तीन हजार से अधिक कार्यकर्ता व सहायिकाएं तैनात हैं। इन सभी के नंबर लखनऊ कॉल सेंटर में भेजे जा रहे हैं। साथ ही कुपोषित बच्चों के परिवार, प्रधान, एएनएम, ग्राम पंचायत अधिकारी आदि के मोबाइल नंबर कॉल सेंटर पर फीड होंगे। हर दिन लखनऊ से कॉल आएगी।




 कॉल के दौरान जो गड़बड़ियां मिलेंगी या जवाब नहीं दे पाएंगे उसकी रिपोर्ट स्थानीय कॉल सेंटर पर पहुंचेंगी। उसके बाद कार्रवाई होगी। मालूम हो बरेली में 80 हजार से अधिक कुपोषित बच्चे हैं।  



मेगा कॉल सेंटर के जरिये कुपोषण का हर दिन हाल जाना जाएगा। इसकी तैयारियां तेजी से चल रही हैं।- सत्येंद्र कुमार, सीडीओ, बरेली 



आंगनबाड़ी केंद्रों पर रोज बजेगी कॉल सेंटर की घंटी,  लखनऊ से लिया जा जाएगा आंगनबाड़ी केंद्रों का संज्ञान, कुपोषित बच्चों के प्रति सरकार जागी, दस सवाल हर दिन  जाएंगे पूछे Reviewed by Sona Trivedi on 8:25 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.