ड्रापआउट’ अभियान से शिक्षा की मुख्यधारा से जुड़ेंगे बच्चे, बेसिक शिक्षा विभाग चला रहा है विशेष अभियान, निःशुल्क-अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार के तहत संचालित है योजना

इलाहाबाद : किसी कारणवश विद्यालय छोड़ चुके एवं शिक्षा की मुख्यधारा से विरत 6 से 14 आयु वर्ग के ड्राप आउट बच्चों को विशेष अभियान के अंतर्गत जोड़ा जाएगा। बेसिक शिक्षा विभाग ने इस दिशा में व्यापक अभियान चला रखा है।




वर्तमान में विद्यालय में कार्यरत चुनिंदा शिक्षक ‘आउट आफ स्कूल’ एवं ‘ड्रापआउट’ को वापस विद्यालय से जोड़ने की मुहिम में जुटे हैं। खासकर ग्रीष्मकालीन अवकाश के बाद विद्यालय न लौटने वाले छात्रों एवं गत वर्ष आधे सत्र में पढ़ाई छोड़ने वाले छात्रों के लिए विभाग सकारात्मक अभियान में  तेजी लाएगी।




शासन की मंशा के अनुसार बेसिक शिक्षा किसी परिस्थिति में विद्यालय छोड़ चुके एवं अब तक विद्यालय से न जुड़ने वाले 6 से 14 आयु वर्ग के छात्रों के लिए विशेष अभियान जल्द ही रफ्तार पकड़ेगा। अभिभावकों को शिक्षा का महत्व बताते हुए बच्चों को प्राथमिक शिक्षा के साथ जोड़ा जाएगा। प्रवेश प्राप्त छात्रों को सर्वशिक्षा अभियान के तहत प्रवेश दे दिया जाएगा। शिक्षकों को विधिवत चिन्हित कर उन्हें उनकी आयु के अनुसार कक्षा में नामांकित करने के लिए निर्देश दिया जा चुका है।



जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी संजय कुशवाहा का कहना है कि निशुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार अधिनियम-2009 के तहत 6 से 14 आयु वर्ग के आउट ऑफ स्कूल एवं ड्राप आउट बच्चों को चिन्हित कर उन्हें आयुसंगत कक्षा में नामांकित कराना विभाग की प्राथमिकता में है। इसके लिए प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों में कार्यरत शिक्षक इसमें लगे हुए हैं। विशेष क्षेत्रों में चिंहित आउट ऑफ स्कूल बच्चों को प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों में नामांकित किया जा रहा है। प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक स्तर के शिक्षक नगरीय एवं अंचल के क्षेत्रों में घर घर जाकर अभिभावकों को समझाकर उनके पाल्यों को शिक्षा की मुख्य धारा में जोड़ने के लिए प्रेरित कर रहे हैं।

ड्रापआउट’ अभियान से शिक्षा की मुख्यधारा से जुड़ेंगे बच्चे, बेसिक शिक्षा विभाग चला रहा है विशेष अभियान, निःशुल्क-अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार के तहत संचालित है योजना Reviewed by Sona Trivedi on 6:43 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.