सीएम बोले - आप पढ़ाइए, हम समाधान देख रहे हैं, सरकार शिक्षामित्रों के मामले को सहानुभूति पूर्वक देख रही

शिक्षामित्र संगठनों से बातचीत में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सरकार उनके मुद्दे को सहानुभूति पूर्वक देख रही है। सुप्रीम कोर्ट के निर्णय की सीमा में जो भी संभव कदम हैं, वे उठाए जा रहे हैं। उन्होंने शिक्षामित्रों से पठन-पाठन पर ध्यान देने की बात कही।

शिक्षामित्रों ने आश्रम पद्धति विद्यालय की तर्ज पर वेतन और सुविधाओं की मांग की। उन्होंने कहा कि इन विद्यालयों में स्थायी के समान ही सुविधाएं शिक्षकों को मिलती हैं। सीएम ने कहा कि जो भी आपकी मांग है, उसका प्रत्यावेदन अपर मुख्य सचिव आरपी सिंह को दे दें। नियमानुसार उस पर विचार किया जाएगा।

सीएम संग वार्ता में शिक्षामित्र संगठनों के पदाधिकारी जितेंद्र शाही, गाजी इमाम आला, शिव कुमार शुक्ला, दीनानाथ दीक्षित, अवनीश सिंह, रीना सिंह, शिव किशोर सहित दूसरे पदाधिकारी शामिल थे।

मांगे
• आश्रम पद्धति विद्यालयों में कार्यरत प्राथमिक शिक्षकों के तर्ज पर वेतनमान।
• एनसीटीई की अधिसूचना में टीईटी छूट का लाभ दिया जाए।• टीईटी पास करने के न्यूनतम अंकों में 15% की छूट।
• सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर सरकार रिव्यू पिटीशन दाखिल करे। 

सीएम बोले - आप पढ़ाइए, हम समाधान देख रहे हैं, सरकार शिक्षामित्रों के मामले को सहानुभूति पूर्वक देख रही Reviewed by Sona Trivedi on 6:46 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.