50 फीसदी शिक्षामित्र स्कूलों में मौजूद : एक तरफ जंतर-मंतर पर शिक्षामित्रों का धरना दूसरी तरफ विभाग ने शिक्षामित्रों की उपिस्थिति का ब्यौरा रोजाना लेने की कवायद शुरू की

राज्य मुख्यालय। एक तरफ देश की राजधानी दिल्ली के जंतर-मंतर पर शिक्षामित्रों का धरना चल रहा है वहीं दूसरी तरफ बेसिक शिक्षा विभाग ने शिक्षामित्रों की उपिस्थिति का ब्यौरा रोजाना लेने की कवायद शुरू कर दी है। धरने के पहले दिन सूबे के स्कूलों में 50 फीसदी शिक्षामित्र उपस्थित रहे। बागपत, सहारनपुर, बिजनौर जैसे पश्चिमी यूपी के जिलों में शिक्षामित्रों की मौजूदगी कम रही वहीं पूर्वांचल के जिलों में शिक्षामित्र स्कूल पहुंच रहे हैं।

स्कूलों में असमायोजित शिक्षामित्र और टीईटी पास शिक्षामित्रों की मौजूदगी ज्यादा दिख रही है। सोमवार को 50 से ज्यादा जिलों ने निदेशालय में यह रिपोर्ट भेजी है। जंतर मंतर पर शिक्षामित्र 14 सितम्बर तक धरना देंगे। दूसरी तरफ, विभाग शिक्षामित्रों की उपस्थिति के जरिए ये सुनिश्चित करने की कोशिश कर रहा है कि इससे सूबे के स्कूलों में पठन-पाठन पर क्या असर पड़ रहा है। इसके बाद विभाग की मंशा है कि शिक्षामित्रों की उपिस्थिति स्कूल में सुनिश्चित करने के लिए नकेल कसी जाए।

25 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट ने 1.30 लाख शिक्षामित्रों का समायोजन रद्द कर दिया है। इसके बाद से शिक्षामित्र लगातार समान कार्य, समान वेतन और टीईटी से छूट देते हुए समायोजन की मांग कर रहे हैं।

50 फीसदी शिक्षामित्र स्कूलों में मौजूद : एक तरफ जंतर-मंतर पर शिक्षामित्रों का धरना दूसरी तरफ विभाग ने शिक्षामित्रों की उपिस्थिति का ब्यौरा रोजाना लेने की कवायद शुरू की Reviewed by Master's Review on 8:13 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.