प्रदेश के 1.67 लाख विद्यालय के प्रधानाध्यापकों को भेजे जाएंगे स्वच्छता संदेश, स्कूलों में गूजेंगे ‘बापू के स्वच्छता मंत्र’


विद्यालयों में 17 नवंबर तक मनाए जाएंगे स्वच्छता से संबंधित विविध दिवस

मनाए जाने वाले दिवस प्रदेश के 1.67 लाख विद्यालय के प्रधानाध्यापकों को भेजे जाएंगे स्वच्छता संदेश, उत्तरदायी बनाए गए हैं जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी (बापू) के स्वच्छता मंत्र अब परिषदीय विद्यालयों में गूजेंगे। 17 नवंबर तक विद्यालयों में स्वच्छता से संबंधित विविध दिवस मनाए जाएंगे। इसकी शुरुआत गांधी जयंती से हो चुकी है।

इस दौरान छात्रों के अलावा शिक्षक और अभिभावकों को भी स्वच्छता के प्रति जागरूक किया जाएगा। प्रदेश के 1.67 लाख परिषदीय विद्यालय के प्रधानाध्यापकों के मोबाइल पर स्वच्छता से संबंधित संदेश भेजा जाएगा। मोबाइल पर संदेश प्राप्त होने के बाद प्रधानाध्यापक अगले दिन अनिवार्य रूप से उसे शिक्षक और छात्रों के बीच प्रसारित करेंगे। साथ ही उस संदेश पर विस्तार से चर्चा भी की जाएगी। पंचायतीराज एवं मिशन निदेशक स्वच्छ भारत मिशन के निदेशक विजय किरन आनंद ने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारियों को इस अभियान का उत्तरदायी बनाया गया है।’हाथ धुलाई दिवस- छह अक्टूबर को। बच्चों को भोजन से पहले और शौच के तुरंत बाद साफ पानी व साबुन से हाथ धोने के लिए प्रेरित किया जाएगा।

’विश्व हाथ धुलाई दिवस - 13 अक्टूबर। विश्व हाथ धुलाई दिवस 15 अक्टूबर को है, लेकिन दो दिन पहले मनाया जाएगा। प्रधानाध्यापक अपने घर व समुदाय में लोगों को जागरूक करेंगे

’स्वच्छ विद्यालय - 16 अक्टूबर। प्रधानाध्यापक ग्राम प्रधानों से समन्वय स्थापित कर हाथ धोने व साफ-सफाई आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करेंगे।

स्वच्छ विद्यालय- 23 अक्टूबर। प्रधानाध्यापक शौचालयों की स्थिति की समीक्षा करेंगे। शौचालयों में साफ पानी, साबुन एवं डस्टबीन की व्यवस्था सुनिश्चित करेंगे।

सुरक्षित पीने का पानी - 27 अक्टूबर। प्रधानाध्यापक शिक्षक और बच्चे सुरक्षित पेयजल के महत्व पर चर्चा करेंगे। गंदे पानी से होने वाली बीमारियों के बारे में जानकारी दी जाएगी।

’स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार - 30 अक्टूबर। स्वच्छ विद्यालय के लिए आनलाइन पंजीकरण किया जाएगा।

’हाईजीन प्रबंधन - तीन नवंबर। मीना मंच के माध्यम से छात्रओं को हाईजीन प्रबंधन पर चर्चा की जाएगी। समस्याओं पर छात्रओं से बात होगी तथा चुप्पी तोड़ने को लिए उन्हें प्रेरित किया जाएगा।

’स्वच्छ विद्यालय- 13 नवंबर। बालक और बालिकाओं के लिए अलग-अलग शौचालयों की समीक्षा की जाएगी।

हाईजीन प्रबंधन - 10 नवंबर। मीना मंच के माध्यम से छात्रओं के साथ हाईजीन प्रबंधन पर चर्चा के साथ आवश्यक सुझाव व जानकारियां दी जाएंगी।

’विश्व शौचालय दिवस- 17 नवंबर। विश्व शौचालय दिवस 19 को है, लेकिन यह 17 को ही मनाया जाएगा। खुले में शौच से होने वाली बीमारियों व प्रदूषण के बारे में विस्तृत जानकारी दी जाएगी।

प्रदेश के 1.67 लाख विद्यालय के प्रधानाध्यापकों को भेजे जाएंगे स्वच्छता संदेश, स्कूलों में गूजेंगे ‘बापू के स्वच्छता मंत्र’ Reviewed by Ram Krishna mishra on 7:19 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.