शासनादेश के एक वर्ष बाद काउंसिलिंग का इंतजार : 32022 अंशकालिक शारीरिक शिक्षा व खेलकूद अनुदेशकों की संविदा भर्ती एक साल से चुनाव की आचार संहिता व हाईकोर्ट की रोक के बीच रही झूल

इलाहाबाद : प्रदेश के उच्च प्राथमिक विद्यालयों में 32022 अंशकालिक शारीरिक शिक्षा व खेलकूद अनुदेशकों की संविदा भर्ती एक साल से चुनाव की आचार संहिता व हाईकोर्ट की रोक के बीच झूलती रही है। इस भर्ती का शासनादेश बीते वर्ष 19 सितंबर को जारी हुआ। ऑनलाइन आवेदन लिए गए, लेकिन अब तक काउंसिलिंग कराकर नियुक्ति नहीं हो सकी है। भर्तियों से रोक हटने के बाद अभ्यर्थी काउंसिलिंग की तारीख का इंतजार कर रहे हैं।

★ उच्च प्राथमिक स्कूलों में 32022 अनुदेशकों की भर्ती का मामला
★ हाईकोर्ट से भर्तियों की रोक हटने के बाद फिर जगी उम्मीद
★ विधानसभा चुनाव ने रोकी राह, नियुक्ति का इंतजार

बेसिक शिक्षा परिषद के उच्च प्राथमिक विद्यालयों में अंशकालिक अनुदेशकों की संविदा पर नियुक्ति का आदेश होने के एक माह बाद भर्ती के लिए 24 अक्टूबर से नौ नवंबर तक वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन लिए गए। ई-चालान फार्म से बैंक में आवेदन शुल्क जमा करने की अंतिम तारीख 11 नवंबर, चालान भरते हुए आवेदन पत्र पूर्ण करने की अंतिम तारीख 16 नवंबर तय की गई थी। उस समय नोटबंदी के कारण बैंकों से पर्याप्त सहयोग न मिलने पर परिषद ने ई-चालान से शुल्क जमा करने व आवेदन की मियाद बढ़ा दी थी। इससे दावेदारों की संख्या तेजी से बढ़ी। इस पद के लिए बीपीएड, डीपीएड के अभ्यर्थियों को मौका मिला था।

आगरा में सबसे अधिक पद : सचिव बेसिक शिक्षा परिषद कार्यालय की ओर से जारी सूचना में कहा गया है कि सबसे अधिक 748 पद आगरा, फतेहपुर में 623, इलाहाबाद में 607, प्रतापगढ़ में 544, कौशांबी में 402 पद रहे हैं।


भर्ती की काउंसिलिंग शुरू होने से पहले ही विधानसभा चुनाव की अधिसूचना लागू होने से यह भर्ती रुक गई। इसके बाद हाईकोर्ट में अन्य प्रकरण पहुंचने पर सारी भर्तियों पर रोक लगी रही। अब रास्ता साफ हो गया है। ऐसे में डेढ़ लाख से अधिक अभ्यर्थियों को काउंसिलिंग के बाद नियुक्ति मिलने का इंतजार है।

भर्ती के लिए एक लाख 54 हजार अभ्यर्थियों ने की दावेदारी1भर्ती के लिए एक लाख 54 हजार 216 ने आवेदन किया है। इसमें 8625 विकलांग आवेदक भी हैं। वहीं बीते 28 से 30 नवंबर शाम पांच बजे तक अभ्यर्थियों ने ऑनलाइन आवेदन में संशोधन किया, इसी के साथ पहला चरण पूरा हो चुका है। दूसरे चरण में काउंसिलिंग होनी है। उसकी तारीख अब तक तय नहीं हो सकी है।

शासनादेश के एक वर्ष बाद काउंसिलिंग का इंतजार : 32022 अंशकालिक शारीरिक शिक्षा व खेलकूद अनुदेशकों की संविदा भर्ती एक साल से चुनाव की आचार संहिता व हाईकोर्ट की रोक के बीच रही झूल Reviewed by Sona Trivedi on 5:44 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.