बीएसए स्तर के आठ अफसर जबरन किये जाएंगे रिटायर, 50 वर्ष की उम्र से अधिक के दागी और आरोपी अफसरों की पड़ताल के बाद स्क्रीनिंग कमेटी ने लिया निर्णय

लखनऊ : बेसिक शिक्षा विभाग में बेसिक शिक्षा अधिकारी स्तर (समूह ‘ख’) के आठ अफसरों की अनिवार्य सेवानिवृत्ति की सिफारिश की गई है। यह वे अधिकारी हैं जिन्हें पहले वृहद दंड मिल चुका है। 50 वर्ष से अधिक उम्र के इन अफसरों में से कुछ निलंबित हैं और कुछ जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थानों में व अन्यत्र तैनात हैं। अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा राज प्रताप सिंह की अध्यक्षता में गठित विभागीय स्क्रीनिंग कमेटी की गुरुवार को हुई बैठक में शिक्षा सेवा समूह ‘ख’ के 171 अफसरों के सर्विस रिकॉर्ड की पड़ताल की गई।


अभिलेखों की जांच परख के बाद स्क्रीनिंग कमेटी ने इनमें से आठ अफसरों को अनिवार्य सेवानिवृत्ति के लिए शार्टलिस्ट किया। स्क्रीनिंग कमेटी ने अपनी सिफारिश मुख्य सचिव राजीव कुमार को भेजी है। उनके माध्यम से फाइल मुख्यमंत्री को जाएगी।

राज्य के बारह हजार अधिकारियों-कर्मचारियों को पदोन्नत किया गया है। इसके साथ ही अयोग्य और अक्षम अधिकारियों-कर्मचारियों को सेवा से हटाने की कार्रवाई की जा रही है। अब तक जिन भ्रष्ट अफसरों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की गई है उनका पूरा ब्योरा विभिन्न विभागों से मांगा गया है। शासन-प्रशासन को चुस्त-दुरुस्त बनाने को सरकार संकल्पबद्ध है।  - राजीव कुमार, मुख्य सचिव, प्रदेश सरकार

बीएसए स्तर के आठ अफसर जबरन किये जाएंगे रिटायर, 50 वर्ष की उम्र से अधिक के दागी और आरोपी अफसरों की पड़ताल के बाद स्क्रीनिंग कमेटी ने लिया निर्णय Reviewed by Praveen Trivedi on 5:06 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.