दिसम्बर के अंतिम हफ्ते में होने जा रही थी परिषदीय विद्यालयों के 68 हजार शिक्षक भर्ती के लिए परीक्षा, टीईटी रिजल्ट के फेर में फंसी 68 हजार शिक्षकों की भर्ती

टीईटी के 19 प्रश्नों के उत्तर को लेकर मामला हैं अभी फंसा टीईटी-2017 के रिजल्ट के फेर में परिषदीय विद्यालयों के शिक्षक-शिक्षिकाओं के रिक्त 68,000 पदों पर नियुक्ति को लेकर होने वाली परीक्षाअब फंस गयी हैक्योंकि टीईटी का रिजल्ट घोषित होने के बाद ही यह लिखित परीक्षाएं होगी।इससे बड़ी संख्या में बीटीसी एवं टीईटी पास अभ्यर्थीशिक्षक की नौकरी के लिए परेशान हैऔर वह सचिव बेसिक शिक्षा परिषद एवं सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय का चक्कर लगा रहे है लेकिन उनकी कोई सुनवाई नहीं है।टीईटी-2017 की एक बार आंसर सीट जारी की जा चुकी है।उसके बाद 21 आपत्तियां आईथी।

इनमें से सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी ने दो आपत्तियों का निस्तारण कर फिर से आंसर सीट जारी कर दिया है।सबसे बड़ी बात यह है कि मामले की सुनवाई हाईकोर्टइलाहाबाद में शुरूहो गयी है।हाईकोर्टने सभी आपत्तियों के निस्तारण का निर्देश दिया था लेकिन सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी ने मात्रदो प्रश्नों के उत्तर को गलत मानते हुए ठीक कर दिया है जबकि अभी 19 प्रश्नों के उत्तर को ठीक किया जाना था।इससे मामला फंसता जा रहा है।

जब तक सभी प्रश्नों के उत्तर निस्तारित नहीं होंगे तक तक परिषदीय विद्यालयों में शिक्षक - शिक्षिकाओं के रिक्त 68 हजार पदों पर भर्तीप्रक्रिया शुरूनहीं हो सकेगी।सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी उत्तर प्रदेश डा एस सिंह का कहना हैकि टीईटी का रिजल्ट शीघ्र घोषित किया जायेगा।तैयारियां अंतिम दौर में चल रही है।उन्होंने बताया कि आपत्तियों का निस्तारण शीघ्र कर लिया जायेगा।कहा कि जो विशेषज्ञों जो भी जरुरी आपत्तियां समझी थी उसका निस्तारण कर दिया है।इस दौरान रिजल्ट तैयार हो रहा है जिसके शीघ्र घोषित होने की पूरी संभावना है।

दिसम्बर के अंतिम हफ्ते में होने जा रही थी परिषदीय विद्यालयों के 68 हजार शिक्षक भर्ती के लिए परीक्षा, टीईटी रिजल्ट के फेर में फंसी 68 हजार शिक्षकों की भर्ती Reviewed by Ram Krishna mishra on 7:38 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.