टीईटी के प्रश्नों पर आपत्तियों से राहत के आसार नहीं, केवल वैकल्पिक विषय संस्कृत और उर्दू के एक-एक प्रश्न पर आपत्ति सही पाई गई

इलाहाबाद  :  उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपी-टीईटी) के प्रश्नों पर आपत्तियों से राहत के आसार नहीं है। अभ्यर्थियों ने प्राथमिक स्तर की परीक्षा के कई प्रश्नों के उत्तर गलत होने का दावा किया था। सूत्रों के मुताबिक संस्कृत और उर्दू विषय के एक-एक प्रश्न पर आपत्ति सही पाई गई है।

चूंकि दोनों विषय वैकल्पिक हैं इसलिए गलत प्रश्न को करने वाले अभ्यर्थियों को अधिकतम एक अंक ही मिलेगा क्योंकि अभ्यर्थियों ने संस्कृत या उर्दू में से एक ही विषय हल किया है। इसलिए प्राथमिक स्तर की परीक्षा में सम्मिलित जो अभ्यर्थी चार या पांच नंबर तक बढ़ने की उम्मीद कर रहे थे उनके लिए अच्छी खबर नहीं है।  150 नंबर के टीईटी को पास करने के लिए सामान्य वर्ग के अभ्यर्थियों को 90 और आरक्षित वर्ग को 82 नंबर मिलना चाहिए।

सोमवार को जारी होगी टीईटी-17 की उत्तरमाला: यूपी-टीईटी 2017 की संशोधित उत्तरमाला सोमवार दोपहर से वेबसाइट पर देखी जा सकेगी।

टीईटी के प्रश्नों पर आपत्तियों से राहत के आसार नहीं, केवल वैकल्पिक विषय संस्कृत और उर्दू के एक-एक प्रश्न पर आपत्ति सही पाई गई Reviewed by Master's Review on 7:46 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.