बेसिक शिक्षा निदेशक का फरमान, विद्यालय प्रबंधक समितियों के सदस्यों को देंगे भाषा का प्रशिक्षण, अभिभावकों की भी लगेंगी कक्षाएं

परिषदीय विद्यालयों में पढ़ने वाले बच्चों के माता-पिता को भी अब प्रशिक्षण दिया जाएगा। विद्यालय में उनकी कक्षाएं लगेंगी और भाषा के साथ ही बच्चों के लिए आवश्यक अन्य विषयों के व्यवहारिक ज्ञान की जानकारी दी जाएगी। बेसिक शिक्षा निदेशालय से इस संबंध में दिशा निर्देश जारी किए गए हैं।

विद्यालय प्रबंध समितियों को मजबूत किया गया है। अब विद्यालय की अधिकांश योजनाएं उनके माध्यम से होती है। समय-समय पर विद्यालय प्रबंधक समिति के सदस्यों को उनके अधिकारों का प्रशिक्षण दिया जाता है। अमूमन देखा गया है कि गांव में कुछ अभिभावक बच्चों को घर पर पढ़ाना तो चाहते हैं लेकिन उन्हें ज्यादा जानकारी नहीं होती है। चाह कर भी वह कक्षा एक और दो में पढ़ने वाले अपने बच्चों को भी नहीं पढ़ा पाते हैं, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा और विद्यालयों में उनकी भी कक्षाएं लगेंगी।

बेसिक शिक्षा निदेशक डा. सर्वेंद्र विक्रम बहादुर सिंह की तरफ से जारी फरमान में विद्यालयों में पढ़ने वाले बच्चों के अभिभावकों को सरल भाषा में कक्षावार एवं विषयवार प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रबंधक समिति के सदस्यों के साथ अधिक से अधिक अभिभावकों को विद्यालयों में आमंत्रित किया जाएगा। माता-पिता में से जो पढ़ना लिखना जानते हैं वह कक्षा में पढ़ाई और सुनाई जाने वाली कहानी बच्चों को पढ़कर सुनाएंगे। अभिभावकों को प्रेरित किया जाएगा कि जिन विषयों या वस्तुओं को बच्चों को नहीं समझा सकते हैं। उसकी जानकारी विद्यालय के शिक्षक से साझा करें। बीएसए मसीहुज्ज्मा सिद्दीकी ने बताया कि विद्यालय प्रबंध समितियों के प्रशिक्षण के विषयों को शामिल करने का आदेश आ गया है और उसी के अनुसार कार्य योजना तैयार कर जल्द ही इसे लागू करवा दिया जाएगा।

बेसिक शिक्षा निदेशक का फरमान, विद्यालय प्रबंधक समितियों के सदस्यों को देंगे भाषा का प्रशिक्षण, अभिभावकों की भी लगेंगी कक्षाएं Reviewed by राम कृष्ण मिश्र (रिक्की) on 7:33 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.