बेसिक शिक्षकों को आधार से जोड़ने में पांच जिले सबसे अधिक फिसड्डी, देखिये कौन कौन से हैं वह 5 जिले

इलाहाबाद : बेसिक शिक्षा परिषद के सभी शिक्षकों को अनिवार्य रूप से आधार से जोड़ने की मुहिम प्रदेश भर में चल रही है। उनमें पांच जिले सबसे पीछे हैं। गोरखपुर समेत पांच जिलों के सहायक शिक्षा निदेशक बेसिक व बीएसए को परिषद मुख्यालय ने नोटिस जारी की है। कहा गया है कि शत-प्रतिशत कार्य पूरा न होने पर शासन को कार्रवाई के लिए लिखा जाएगा।

परिषदीय विद्यालयों के शिक्षकों को आधार नंबर जोड़ा जा रहा है। पिछले दिनों बेसिक शिक्षा निदेशक डा. सर्वेद्र विक्रम बहादुर सिंह ने निर्देश जारी किया था कि जो शिक्षक आधार नंबर मुहैया न कराएं उनका नवंबर माह का वेतन भुगतान न किया जाए। साथ ही यह भी कहा गया कि आधार नंबर को वेतन भुगतान से लिंक कर दिया जाए। ऐसे में प्रदेश के कौशांबी, देवरिया, कुशीनगर जैसे तमाम जिलों ने कार्य पूरा कर लिया है, लेकिन पांच जिले इसमें काफी पीछे हैं।


परिषद मुख्यालय की मानें तो गोरखपुर में 81.40, सीतापुर में 72.90, एटा में 79.09, आजमगढ़ में 81.72 व बदायूं में 82.07 फीसद शिक्षक ही आधार से जुड़ सकें हैं। इस ढिलाई पर परिषद मुख्यालय ने नाराजगी जताई है। परिषद संजय सिन्हा ने पांचों जिलों के सहायक शिक्षा निदेशक बेसिक व बेसिक शिक्षा अधिकारियों को नोटिस जारी की है। इसमें कहा गया है कि जल्द शत-प्रतिशत कार्य पूरा करके रिपोर्ट भेजे, अन्यथा शासन को रिपोर्ट भेजकर उन पर कार्रवाई करने का प्रस्ताव भेजा जाएगा।

बेसिक शिक्षकों को आधार से जोड़ने में पांच जिले सबसे अधिक फिसड्डी, देखिये कौन कौन से हैं वह 5 जिले Reviewed by Praveen Trivedi on 6:55 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.