शिक्षामित्रों की मृत्यु पर सदन में सवाल, मंत्री नही दे सके प्रश्नों के जवाब

विधानपरिषद में शुक्रवार को फिर योगी सरकार के दो मंत्री विपक्ष के सवालों में फंस गए। बेसिक शिक्षा मंत्री अनुपमा जायसवाल व पशुधन मंत्री एसपी सिंह बघेल विपक्ष के प्रश्नों का जवाब नहीं दे सके। इस कारण इन दोनों के प्रश्न स्थगित कर दिए गए।

सपा के आनन्द भदौरिया ने बेसिक शिक्षा मंत्री से पूछा था कि शिक्षा मित्रों के धरना प्रदर्शन में अब तक कुल कितने शिक्षा मित्रों की जानें गईं हैं। साथ ही सरकार ने उनको कितनी मुआवजा दिया है। इस पर मंत्री अनुपमा जायसवाल ने कहा कि सूचना एकत्र कराई जा रही है। मंत्री के जवाब से असंतुष्ट विपक्ष के सदस्य हंगामा करने लगे। शिक्षक दल व निर्दलीय समूह के भी सदस्य कहने लगे कि इतने गंभीर मसले पर शिक्षा मंत्री अभी जानकारी ही एकत्र करवा रही हैं। सभापति ने बाद में इस प्रश्न को स्थगित कर दिया। 


दूसरा प्रश्न कांग्रेस सदस्य दीपक सिंह का था। उन्होंने पशुधन मंत्री से पूछा कि क्या पहले थाना एवं ब्लॉक स्तर पर आवारा जानवरों को रखने व उनके खाने के लिए कांजी हाउस की व्यवस्था थी। इस पर मंत्री एसपी सिंह बघेल ने कहा कि विषय कई विभागों से संबंधित है इसलिए इसकी सूचना एकत्र कराई जा रही है। दीपक सिंह ने अनुपूरक प्रश्न पूछा कि छुट्टा गायों के कारण अब तक कुल कितने लोग दुर्घटना का शिकार हुए हैं लेकिन इस प्रश्न का भी जवाब मंत्री नहीं दे पाए। सभापति ने इस प्रश्न को भी स्थगित कर दिया।


शिक्षामित्रों की मृत्यु पर सदन में सवाल, मंत्री नही दे सके प्रश्नों के जवाब Reviewed by Ram Krishna mishra on 8:10 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.