परिषदीय शिक्षक खुद करेंगे अपना अंतरजनपदीय तबादला, पूरी तरह सॉफ्टवेयर आधारित होगी तबादले की प्रक्रिया

इलाहाबाद : चौंकिए नहीं, यह बात नए साल में हकीकत में बदलने जा रही है। बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में अध्यापकों के अंतर जिला तबादले पूरी तरह से सॉफ्टवेयर के जरिये होंगे। आवेदन लेकर तबादला सूची जारी करने का आधार कंप्यूटर में दर्ज रिकॉर्ड होंगे। उसमें किसी तरह का मैनुअल बदलाव संभव नहीं होगा। खास बात यह है कि शिक्षक अपने संबंध में जो सूचनाएं दर्ज करेंगे, वही तबादला करने का सबसे बड़ा कारक होगा। इसकी तैयारियां तेज हो गई हैं।


परिषदीय प्राथमिक व उच्च प्राथमिक स्कूलों के शिक्षकों का अंतर जिला तबादला करने का संकेत जारी हो चुका है। अब नए साल में जनवरी के दूसरे पखवारे में औपचारिक आदेश निकालने की तैयारी है। परिषद ने जिले के अंदर समायोजन व स्थानांतरण में बीएसए के स्तर से हुई गड़बड़ियों को गंभीरता से लेने के साथ ही सबक भी सीखा है। उनका दोहराव न होने पाए इसलिए जनवरी के पहले पखवारे में सारी तैयारी पूरी की जाएगी। मसलन, शिक्षकों का डाटा आदि विधिवत जांचा जाएगा और संतुष्ट होने पर ही आदेश जारी होगा।


यूपी बोर्ड ने पिछले दिनों जिस तरह से परीक्षा केंद्रों का निर्धारण किया है, तबादले का मॉड्यूल लगभग वैसा है। उसमें जिला विद्यालय निरीक्षकों ने आंकड़े भरे थे, इसमें शिक्षक ब्योरा देंगे। परिषद इसको लेकर सतर्क है कि परीक्षा केंद्र निर्धारण की जैसी खामियां तबादलों में न होने पाए। परिषदीय स्कूलों के अंतर जिला तबादले के लिए शासन ने जून में शासनादेश जारी किया है उसी के अनुरूप शिक्षकों को वेटेज मिलेगा और दिव्यांग, महिला, स्वतंत्रता संग्राम सेनानी आदि को वरीयता दी जाएगी।

परिषदीय शिक्षक खुद करेंगे अपना अंतरजनपदीय तबादला, पूरी तरह सॉफ्टवेयर आधारित होगी तबादले की प्रक्रिया Reviewed by Praveen Trivedi on 6:53 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.