बीएड प्रवेश परीक्षा में सफल हुए 209241 अभ्यर्थी,  दो वर्षीय कोर्स में दाखिले के लिए आयोजित हुई संयुक्त प्रवेश परीक्षा का परिणाम घोषित

 इलाहाबाद के अभिषेक कुमार अवस्थी टॉपर, मगर नहीं लेंगे दाखिला, जिम्मी सौरभ दूसरे स्थान पर टॉप टेन की सूची में नौ छात्र व एक छात्र, जून के पहले सप्ताह में काउंसिलिंग



मजबूत आत्मविश्वास ने दिलाई सफलता : अभिषेक  संवाददाता, लखनऊ : अगर आपका आत्मविश्वास मजबूत है तो कोई भी मुकाम आप आसानी से हासिल कर सकते हैं। यह मानना बीएड में टॉप करने वाले इलाहाबाद के अभिषेक कुमार अवस्थी का है। फिलहाल उनका चयन लोअर पीसीएस 2015 में मनोरंजन कर अधिकारी के पद पर हो चुका है। 



पीसीएस 2016 का मेन वह दे चुके हैं और उन्हें रिजल्ट का इंतजार है। ऐसे में वह बीएड कोर्स में दाखिला नहीं लेंगे। अभिषेक का कहना है कि 11 अप्रैल को बीएड प्रवेश परीक्षा थी और लोअर पीसीएस का रिजल्ट 13 अप्रैल को आया। ऐसे में अगर यह रिजल्ट पहले आ जाता तो वह बीएड प्रवेश परीक्षा न देते। उन्हें शायद टॉप कर एक और उपलब्धि हासिल करनी थी तो ऐसा हुआ। अभिषेक के पिता बाबू प्रसाद अवस्थी पुरोहित हैं। अभिषेक मूल रूप से हमीरपुर के रहने वाले हैं। उन्होंने सरस्वती इंटर कॉलेज से हाईस्कूल 79.3 प्रतिशत और इंटरमीडिएट 79.8 प्रतिशत अंक के साथ पास किया है। इलाहाबाद यूनिवर्सिटी से बीए 67.5 प्रतिशत अंक के साथ और एमए इकोनामिक्स 70.5 प्रतिशत अंक के साथ पास किया। एमए इकोनामिक्स में इन्हें गोल्ड मेडल भी मिला था। वह अपनी सफलता का श्रेय परिवार व गुरुजन को देते हैं।



लखनऊ : सूबे में बीएड के दो वर्षीय कोर्स में दाखिले के लिए आयोजित हुई संयुक्त प्रवेश परीक्षा का परिणाम शुक्रवार को घोषित कर दिया गया। बीएड प्रवेश परीक्षा में 209241 अभ्यर्थी सफल घोषित किए गए। इलाहाबाद के अभिषेक कुमार अवस्थी ने 400 में से 341 अंक हासिल कर पहला स्थान हासिल किया है। अभिषेक का चयन लोअर पीसीएस में मनोरंजन कर अधिकारी पद पर हो चुका है, ऐसे में वह फिलहाल बीएड में दाखिला नहीं लेंगे। आगरा सेंटर से परीक्षा देने वाली जिम्मी सौरभ ने 324.67 अंक हासिल कर दूसरा स्थान हासिल किया है। वह मूलरूप से बिहार के मुजफ्फरपुर की रहने वाली हैं। 



इस बार की सूची में नौ छात्र हैं और एक छात्र है। बीएड प्रवेश परीक्षा का परिणाम वेबसाइट पर उपलब्ध है। शुक्रवार को शाम करीब चार बजे लखनऊ विश्वविद्यालय (लविवि) के कुलपति प्रो. एसपी सिंह और बीएड की संयुक्त प्रवेश परीक्षा के राज्य समन्वयक प्रो. एनके खरे ने परिणाम घोषित किया। जून के पहले सप्ताह में दाखिले के लिए काउंसिलिंग होगी। इस बार ऑफ कैंपस ऑनलाइन काउंसिलिंग होगी। अभ्यर्थियों को काउंसिलिंग सेंटर पर नहीं आना होगा। पूरी काउंसिलिंग घर पर बैठे-बैठे कम्प्यूटर व इंटरनेट की मदद से या फिर साइबर कैफे में जाकर अभ्यर्थी पूरी करेंगे।



 राज्य समन्वयक प्रो. एनके खरे ने बताया कि बीएड की प्रवेश परीक्षा में शामिल होने के लिए 233913 ने पंजीकरण करवाया था। इसमें से 210415 अभ्यर्थी प्रवेश परीक्षा में आए। इसमें 10 अभ्यर्थियों को नकल करने के आरोप में पकड़ा गया। वहीं 1174 अभ्यर्थी ऐसे थे जिन्होंने सिर्फ पहली या फिर दूसरी पाली का इम्तिहान दिया। 



समय से पहले परिणाम घोषित : पिछले साल बीएड में 1.94 लाख सीटें थी। इस बार कॉलेज 20 मई तक बीएड कोर्स की सीटों का ऑनलाइन ब्योरा देंगे। ऐसे में सफल हुए अभ्यर्थी आराम से दाखिला पा जाएंगे। बीएड की प्रवेश परीक्षा 11 अप्रैल को हुई थी और रिजल्ट 10 मई को घोषित किया जाना था लेकिन लविवि ने इसे पहले ही घोषित कर दिया। 1जिम्मी ने नहीं लिया वेटेज : पहला स्थान हासिल करने वाले अभिषेक कुमार अवस्थी को पहले पेपर में 172 व दूसरे पेपर में 154 अंक मिले हैं। यानी लिखित परीक्षा में 326 अंक मिले और 15 अंक का स्पोर्ट्स व एनसीसी आदि का वेटेज मिला। इस तरह कुल 341 अंक मिले। दूसरे नंबर पर रहीं जिम्मी सौरभ को लिखित परीक्षा में कुल 324.67 अंक मिले, उन्होंने किसी भी तरह का वेटेज नहीं लिया। तीसरे स्थान पर गोरखपुर के सत्येंद्र कुमार मिश्र, चौथे स्थान पर फैजाबाद के राजीव कुमार पांडे और पांचवें स्थान पर इलाहाबाद के शिव शंकर धूरिया रहे। 1आंसर की भी ऑनलाइन की गई : बीएड की संयुक्त प्रवेश परीक्षा की आंसर ऑनलाइन की है। सात दिनों के अंदर अपनी आपत्ति दर्ज करवा सकते हैं।


बीएड प्रवेश परीक्षा में सफल हुए 209241 अभ्यर्थी,  दो वर्षीय कोर्स में दाखिले के लिए आयोजित हुई संयुक्त प्रवेश परीक्षा का परिणाम घोषित Reviewed by प्राइमरी का मास्टर on 5:47 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.