डीएलएड 2018 में प्रवेश के लिए अब भी कालेजों में 147368 सीटें हैं खाली, ऑनलाइन काउंसिलिंग की प्रक्रिया 12 से शुरू होकर 27 जुलाई तक चलेगी

इलाहाबाद : डीएलएड (पूर्व में बीटीसी) 2018 में सीटें भरना मुश्किल हो गया है। पहले चरण में प्रवेश के बाद भी कालेजों में 147368 सीटें खाली रह गई हैं। इन सीटों पर प्रवेश के लिए ऑनलाइन काउंसिलिंग की प्रक्रिया गुरुवार से शुरू होकर 27 जुलाई तक चलेगी।


मनपसंद कालेज न मिलने से अभ्यर्थी प्रवेश लेने से कतरा रहे हैं। ज्ञात हो कि प्रवेश के लिए चार लाख से अधिक ने पंजीकरण कराया, उसमें से 303689 ने ही अंतिम रूप से आवेदन किया। पहले चरण में स्टेट रैंक घोषित करके ऑनलाइन काउंसिलिंग कराई गई। सभी अभ्यर्थियों को चार जुलाई तक प्रवेश लेना था लेकिन, कई अभ्यर्थियों को आवंटन पत्र निकालने में दिक्कत हुई ऐसे में प्रवेश की समय सीमा नौ जुलाई तक बढ़ाई गई।



परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव डा. सुत्ता सिंह ने बताया कि पहले चरण में कुल 82707 अभ्यर्थियों ने विभिन्न कालेजों में प्रवेश लिया है, जबकि कालेज आवंटन 136945 का किया गया था, यानी 54238 ने कालेज आवंटित होने के बाद भी प्रवेश नहीं लिया। सचिव ने बताया कि अब कालेजों में 147368 सीटें बची हैं, उनमें प्रवेश देने के लिए दूसरा चरण 12 जुलाई से शुरू होगा। ज्ञात हो कि प्रदेश में 3419 कुल डीएलएड कालेज हैं और इस बार सीटों की संख्या बढ़कर 230075 हो गई थी। दूसरे चरण में सभी सीटें भरने की उम्मीद नहीं है।

डीएलएड 2018 में प्रवेश के लिए अब भी कालेजों में 147368 सीटें हैं खाली, ऑनलाइन काउंसिलिंग की प्रक्रिया 12 से शुरू होकर 27 जुलाई तक चलेगी Reviewed by प्राइमरी का मास्टर on 6:09 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.