शिक्षक भर्ती : कॉपियों की दोबारा जांच शुरू, एक सप्ताह में पूरा होगा काम, जांच के बाद पात्र अभ्यर्थियों को मिलेगी नौकरी


शिक्षक भर्ती : कॉपियों की दोबारा जांच शुरू, एक सप्ताह में पूरा होगा काम, जांच के बाद पात्र अभ्यर्थियों को मिलेगी नौकरी

अब सभी कापियों की स्क्रूटनी

सहायक शिक्षक भर्ती में गड़बड़ियों पर योगी सरकार का अहम फैसलाउजागर होगा सच, सुझाव भी होंगे1उच्च स्तरीय समिति ने अभ्यर्थियों व अन्य से गड़बड़ी के साक्ष्य भी लिए हैं। साथ ही परीक्षा संस्था कार्यालय में करीब सात हजार से अधिक ने स्कैन कॉपी के लिए दो हजार रुपये जमा किया है। रिपोर्ट में सफल अभ्यर्थियों को नियुक्ति देने की सिफारिश, परीक्षा का पैटर्न बदलने को कहा जाएगा, ताकि आगे ऐसी गड़बड़ी दोबारा न हो। अगली परीक्षा ओएमआर शीट पर ही होगी। वहीं, परीक्षा संस्था में लंबे समय से जमे कर्मचारियों को हटाने व दोषियों पर सख्त कानूनी कार्रवाई करने की सिफारिश की जा सकती है। 

राज्य ब्यूरो, इलाहाबाद/लखनऊ : परिषदीय स्कूलों की 68500 सहायक अध्यापक भर्ती की अब सभी कापियों की स्क्रूटनी कराने का राज्य सरकार ने फैसला किया है। कुल 107873 कापियों की स्क्रूटनी एक सप्ताह में कर ली जाएगी। इससे कापियों के गलत मूल्यांकन की पूरी वस्तुस्थिति सामने आ जाएगी। इस बीच संबंधित प्रकरण की जांच के लिए गठित समिति भी अपनी रिपोर्ट को अंतिम रूप देने में जुट गई है। समिति के पास पांच सौ से अधिक शिकायतें पहुंची हैं। छानबीन में सौ से अधिक अभ्यर्थियों की शिकायतों में दम पाया गया है। सरकार बुधवार को पूरे मामले में अब तक की गई कार्रवाई की स्टेटस रिपोर्ट भी इलाहाबाद हाईकोर्ट में पेश करेगी। 1गौरतलब है कि भर्ती परीक्षा की कापियों के मूल्यांकन और नंबर जोड़ने में गड़बड़ी का मामला प्रकाश में आने पर सरकार ने पूरे प्रकरण की जांच के लिए गन्ना विभाग के प्रमुख सचिव संजय आर भूसरेड्डी की अगुवाई में समिति का गठन कर रखा है। समिति के दो सदस्य सर्व शिक्षा अभियान के निदेशक वेदपति मिश्र व बेसिक शिक्षा निदेशक डा. सर्वेद्र विक्रम बहादुर सिंह दो बार परीक्षा संस्था कार्यालय का दौरा कर चुके हैं। अभ्यर्थियों ने भी उनसे मुलाकात करके अपनी शिकायतें दर्ज कराई हैं। जांच समिति के सदस्यों के सामने अफसरों ने स्वीकार किया कि यह गड़बड़ी इसलिए हो गई, क्योंकि कॉपी पर दर्ज अंकों की जगह एवार्ड ब्लैंक में बार कोड का नंबर लिख गया। इसी तरह से बार कोडिंग में भी कई अन्य की कॉपियां या तो मिली नहीं हैं, या फिर बदल गई हैं। सूत्रों के समिति इस बात से मुतमईन है कि गड़बड़ियां हुई हैं। समिति के अध्यक्ष भूसरेड्डी ने बताया कि शिकायतों की जांच कर जल्द ही रिपोर्ट शासन को सौंप दी जाएगी। 1इस बीच बेसिक शिक्षा के अपर मुख्य सचिव डा. प्रभात कुमार ने बताया कि सरकार ने समिति से शिकायतों की जांच कराने के अलावा सभी कापियों की स्क्रूटनी कराने का भी फैसला किया है। उन्होंने बताया कि स्क्रूटनी का काम तेजी से चल रहा है। डा. कुमार ने कहा कि हर एक कापी की स्क्रूटनी से पूरी स्थिति और भी साफ हो जाएगी। स्क्रूटनी का काम जल्द से जल्द पूरा करने के लिए 20 से अधिक टीमें लगाई गई हैं। इसमें लगभग सौ अधिकारी लगाए गए हैं। स्क्रूटनी करने में कोई गड़बड़ी न हो सके इसके लिए संबंधित अधिकारियों से प्रमाणपत्र भी लिया जाएगा। सूत्र बताते हैं कि गोपनीय ढंग से कापियों की स्क्रूटनी तेजी से शुरू भी हो चुकी है और अब तक लगभग 37 हजार कापियों की स्क्रूटनी पूरी कर ली गई है। सूत्रों के मुताबिक अब तक की स्क्रूटनी में दोनों तरह की कापियां मिली हैं। 1संबंधित पेज06।’>>सप्ताहभर में हो जाएगी कुल 107873 कापियों की स्क्रूटनी 1’>>जांच समिति तक पहुंची 500 शिकायतें समिति शासन को जल्द सौंपेगी रिपोर्टभर्ती के कुल पद - 68500 1लिखित परीक्षा में उत्तीर्ण - 41556 1ऑनलाइन जिला वरीयता - 40796 1पहली सूची में चयनित - 34660 1दूसरी सूची में चयनित - 6127 1अचयनित - नौ अभ्यर्थी


शिक्षक भर्ती : कॉपियों की दोबारा जांच शुरू, एक सप्ताह में पूरा होगा काम, जांच के बाद पात्र अभ्यर्थियों को मिलेगी नौकरी Reviewed by Ram Krishna mishra on 5:29 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.