टीईटी में 19 लाख पंजीकरण के साथ बना नया रिकॉर्ड, शुल्क जमा करने में आ रही अब भी दिक्कत

टीईटी में 19 लाख पंजीकरण के साथ बना नया रिकॉर्ड,  शुल्क जमा करने में आ रही अब भी दिक्कत

इलाहाबाद : उप्र शिक्षक पात्रता परीक्षा यानि यूपी टीईटी 2018 के लिए पंजीकरण रिकॉर्ड स्तर तक पहुंच गया है। गुरुवार शाम तक 19 लाख से अधिक आवेदकों ने पंजीकरण करा लिया है, टीईटी के लिए यह संख्या अब तक की सर्वाधिक है।

वहीं, परीक्षा शुल्क जमा करके आवेदन की गति काफी धीमी है, अभी साढ़े छह लाख आवेदन ही हो सके हैं। तीन दिन समय बढ़ने स्ंो पंजीकरण का आंकड़ा और बढ़ने की उम्मीद है, वहीं आवेदन लाख होने की उम्मीद है।


टीईटी के लिए मंगलवार को वेबसाइट शुरू होते ही पंजीकरण व आवेदन की होड़ मच गई। परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय का कहना है कि गुरुवार शाम तक पंजीकरण 19 लाख की संख्या पार गया है, जबकि आवेदन साढ़े छह लाख ही अब तक हो सके हैं। टीईटी 2017 में पंजीकरण का आंकड़ा लाख को पार गया था, जबकि आवेदन 10 लाख से अधिक हो सके थे। इस बार पंजीकरण 20 लाख तक होने के आसार है, आवेदकों की संख्या लाख के आसपास रहने की उम्मीद है।


परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव अनिल भूषण चतुर्वेदी ने बताया कि वेबसाइट बंद रहने के दौरान कई अभ्यर्थियों ने तमाम बार पंजीकरण करा दिया है इसीलिए पंजीकरण बहुत अधिक हो गया है।

■ शुल्क जमा करने में आ रही दिक्कत : वेबसाइट में अब भी शुल्क जमा करने व अंतिम रूप से आवेदन करने में अब भी समस्या बनी है। अभ्यर्थियों को कई बार आवेदन के लिए प्रयास करना पड़ रहा है। इसीलिए पंजीकरण की अपेक्षा आवेदन का आंकड़ा नहीं बढ़ रहा है।

शुल्क जमा होने वाले आवेदन ही मान्य : वेबसाइट बंद होने के बाद खुलने पर कई ऐसे अभ्यर्थियों के फाइनल आवेदन हो गए हैं, जिनका परीक्षा शुल्क जमा ही नहीं हो पाया है। यह तकनीकी गड़बड़ी से हुआ है। ऐसे आवेदकों को फिर से शुल्क जमाकर आवेदन करना होगा, क्योंकि शुल्क जमा होने वाले आवेदन ही मान्य किए जाएंगे

टीईटी में 19 लाख पंजीकरण के साथ बना नया रिकॉर्ड, शुल्क जमा करने में आ रही अब भी दिक्कत Reviewed by प्राइमरी का मास्टर on 6:39 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.