टीईटी 2018 : परीक्षा चार नवंबर को ही, हुई तैयारियां तेज, परीक्षा की खातिर शासन ने एक सप्ताह नहीं बढ़ाई आवेदन की समय सीमा

टीईटी 2018 : परीक्षा चार नवंबर को ही, हुई तैयारियां तेज, परीक्षा की खातिर शासन ने एक सप्ताह नहीं बढ़ाई आवेदन की समय सीमा

■  परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय ने कहा बाकी इम्तिहान दीपावली के बाद 


■ भर्ती के पद अधिक होने से मची होड़
शासन की ओर से दिसंबर में होने वाली शिक्षक भर्ती की लिखित परीक्षा में इस बार करीब 97 हजार पद होने की उम्मीद है। इसमें वही अभ्यर्थी शामिल हो सकेंगे, जो टीईटी उत्तीर्ण हों इसीलिए टीईटी में आवेदन की होड़ मची है।


इलाहाबाद : उप्र शिक्षक पात्रता परीक्षा 2018 के लिए पंजीकरण व आवेदन करने वाले अभ्यर्थी तैयारियों में जुट जाएं क्योंकि परीक्षा चार नवंबर को ही होगी। शासन ने परीक्षा तारीख को देखते हुए परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव के समय सीमा बढ़ाने वाले प्रस्ताव को आंशिक रूप से स्वीकार किया है, तभी सात दिन की जगह सिर्फ तीन दिन का समय बढ़ाया गया है।


इसकी एक वजह यह भी है कि वेबसाइट दोबारा शुरू होने के बाद पंजीकरण पर्याप्त संख्या में हो गए हैं, अब केवल आवेदन पूरे होने का इंतजार है। शासन की ओर से चार नवंबर को ही परीक्षा कराने के रुख को देखकर परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय में तैयारियां तेज कर दी गई हैं।



हालांकि परीक्षा कार्यक्रम की संशोधित समय सारिणी में हर कार्य तीन दिन बढ़ाया गया है। आवेदन शुल्क छह की जगह आठ अक्टूबर तक जमा हो सकेगा। आवेदन पूर्ण होने का प्रिंट अभ्यर्थी अब नौ अक्टूबर को शाम छह बजे तक निकाल सकेंगे। परीक्षा केंद्र निर्धारण के लिए जिलों को अभ्यर्थियों की संख्या अब आठ अक्टूबर को भेजी जाएगी। केंद्र निर्धारण का कार्य अब 12 अक्टूबर को होगा। वहीं, प्रवेश पत्र वेबसाइट पर अब 19 की जगह 22 अक्टूबर को दोपहर बाद अपलोड होंगे।


परीक्षा नियामक कार्यालय अब बीटीसी चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षा आठ, नौ व दस अक्टूबर को कराएगा। अन्य सभी परीक्षाएं दीपावली के बाद होने की उम्मीद है, क्योंकि सभी टीईटी कराने में जुटेंगे।

टीईटी 2018 : परीक्षा चार नवंबर को ही, हुई तैयारियां तेज, परीक्षा की खातिर शासन ने एक सप्ताह नहीं बढ़ाई आवेदन की समय सीमा Reviewed by प्राइमरी का मास्टर on 6:31 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.