कर्मचारी नेताओं ने शुरू की तैयारी, पुरानी पेंशन बहाली की पहली बैठक 12 को



राज्य ब्यूरो, लखनऊ : नई पेंशन योजना की विसंगतियों पर चर्चा के साथ पुरानी पेंशन योजना के फायदों पर विमर्श के लिए शासन में पहली बैठक 12 नवंबर को होगी। यह बैठक वही उच्चस्तरीय समिति करेगी, जिसे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सहमति पर 24 अक्टूबर को गठित किया गया था। बैठक के लिए कर्मचारी नेताओं ने तैयारी शुरू कर दी है।

नई पेंशन योजना को नुकसानदेह ठहराते हुए कर्मचारियों व शिक्षकों के करीब दो सौ संगठनों ने मिलकर कर्मचारी, शिक्षक, अधिकारी पुरानी पेंशन बहाली मंच के बैनर तले पुरानी पेंशन योजना के लिए पिछले महीने बड़े आंदोलन की तैयारी की थी। आठ अक्टूबर को बड़ी रैली कर कर्मचारी-शिक्षकों ने जहां सरकार को चेतावनी दी थी, वहीं 25 से 27 अक्टूबर तक तीन दिन की हड़ताल के बाद अनिश्चितकालीन हड़ताल की भी तैयारी कर ली थी। 


मंच के संयोजक हरिकिशोर तिवारी ने शुक्रवार को बताया कि अपर मुख्य सचिव कार्मिक की अध्यक्षता में गठित समिति की पहली बैठक 12 नवंबर को तय हुई है। बैठक में कर्मचारियों की तरफ से नई पेंशन योजना के नुकसान गिनाने की तैयारी की गई है। समिति में पेंशन निदेशक को सदस्य सचिव और अपर मुख्य सचिव नियोजन, अपर मुख्य सचिव वित्त, प्रमुख सचिव न्याय व पेंशन निधि विनियामक और विकास प्राधिकरण के प्रतिनिधि को सदस्य बनाया गया है। कर्मचारियों की ओर से हरिकिशोर तिवारी व डॉ.दिनेश चंद शर्मा को समिति में विशेष आमंत्रित सदस्य बनाया गया है।’नई पेंशन की खामियां गिनाने की तैयारी कर रहे कर्मचारी नेता1’अगले महीने आनी है पेंशन पर गठित समिति की रिपोर्टसीएम के दखल पर स्थगित हुई थी हड़ताल

कर्मचारियों ने मामले पर व्यापक आंदोलन चलाने की तैयारी की थी। लेकिन, मुख्यमंत्री के दखल के बाद 24 अक्टूबर को पुरानी पेंशन बहाली के लिए शासकीय समिति गठित होने पर कर्मचारियों ने दो महीने के लिए हड़ताल स्थगित कर दी गई थी।

कर्मचारी नेताओं ने शुरू की तैयारी, पुरानी पेंशन बहाली की पहली बैठक 12 को Reviewed by Ram Krishna mishra on 1:24 PM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.