शिक्षा अधिकरण : शिक्षामित्रों से लेकर आयोगों की भर्तियों तक के विवाद विवाद गुजरते हैं हाईकोर्ट से, 25% तक शिक्षा सेवा संबंधी मामले ही बने है रार की वजह



■ शिक्षा अधिकरण : शिक्षामित्रों से लेकर आयोगों की भर्तियों तक के विवाद विवाद गुजरते हैं हाईकोर्ट से, 25% तक शिक्षा सेवा संबंधी मामले ही बने है रार की वजह। 



■ उ0प्र0 शिक्षा सेवा अधिकरण की स्थापना को लेकर रार बरकरार, 27 को प्रयागराज बंद करके होगा शक्ति प्रदर्शन


 
 प्रयागराज: राज्य शिक्षा सेवा अधिकरण को प्रयागराज में स्थापित कराने के लिए आंदोलनरत इलाहाबाद हाईकोर्ट के अधिवक्ताओं को सर्वसमाज का समर्थन मिला है। रविवार को हाईकोर्ट के लाइब्रेरी हॉल में हुई आमसभा में विपक्ष के साथ सत्ताधारी पार्टी भाजपा के नेताओं का जमघट रहा। व्यापारी, चिकित्सक, समाजसेवी, शिक्षकों सहित तीन दर्जन से अधिक संगठनों के प्रतिनिधि आम सभा में पहुंचे। सभी ने एक स्वर में अधिकरण को प्रयागराज में स्थापित करने की मांग का समर्थन किया। आंदोलन को गति देने को सारे संगठनों को मिलाकर ‘प्रयाग विकास मंच’ की स्थापना हुई। मंच के अध्यक्ष हाईकोर्ट बार एसोसिएशन के पदेन अध्यक्ष होंगे। मंच के बैनर तले 27 अगस्त को प्रयागराज बंद करके शक्ति प्रदर्शन किया जाएगा।


सपा के राज्यसभा सदस्य रेवती रमण सिंह अधिवक्ताओं को समर्थन देते हुए बोले, प्रयागराज का गौरव, पहचान खत्म करने की साजिश चल रही है। शिक्षक दल के एमएलसी सुरेश त्रिपाठी व सपा एमएलसी वासुदेव यादव ने कहा कि अधिकरण के साथ प्रयागराज में जितने मुख्यालय हैं उनका अस्तित्व खत्म करने की साजिश हो रही है, जिसे स्वीकार नहीं किया जाएगा। 


शहर उत्तरी से भाजपा विधायक हर्षवर्धन वाजपेयी ने कहा कि हाईकोर्ट प्रयागराज की शान है, अधिकरण उसी का हिस्सा है। उसे शहर से दूर नहीं जाने दिया जाएगा। प्रयागराज फाउंडेशन के अध्यक्ष वरिष्ठ अधिवक्ता शशांक शेखर पांडेय ने कहा कि शहर की राजनीतिक, आर्थिक, सामाजिक पहचान को खत्म करने की साजिश हो रही है, जिसका मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। पूर्व उपमहापौर मुरारीलाल अग्रवाल और व्यापारी नेता विजय अरोरा ने अधिवक्ताओं को हर स्तर पर समर्थन देने की घोषणा की। कार्यक्रम की अध्यक्षता हाईकोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष राकेश पांडेय व संचालन महासचिव जेबी सिंह ने किया। सोमवार से अधिवक्ता क्रमिक अनशन पर बैठेंगे। अनशन मांगें पूरी न होने तक चलेगा।







शिक्षा अधिकरण : शिक्षामित्रों से लेकर आयोगों की भर्तियों तक के विवाद विवाद गुजरते हैं हाईकोर्ट से, 25% तक शिक्षा सेवा संबंधी मामले ही बने है रार की वजह Reviewed by प्राइमरी का मास्टर on 6:09 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.