खुल जा सिमसिम (Type & Search)

एच आई वी पीड़ित बच्चों को शिक्षा का समान अवसर उपलब्ध कराये जाने के सम्बन्ध में निर्देश







Enter Your E-MAIL for Free Updates :   

राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत शिक्षा विभाग की सहभागिता हेतु दिशा निर्देश






Enter Your E-MAIL for Free Updates :   

शिक्षक दिवस के अवसर पर मा0 प्रधान मन्‍त्री जी द्वारा स्‍कूली बच्‍चों को सम्‍बोधित किये जाने के सम्‍बन्‍ध में निर्देश







Enter Your E-MAIL for Free Updates :   

अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस पर बेसिक शिक्षा मंत्री मा0 राम गोविन्द चौधरी जी का संदेश





Enter Your E-MAIL for Free Updates :   

‘स्कूल फार ऑल’ का खाका तैयार : एनसीईआरटी के इस खाके के तहत समावेशी स्कूल को कुछ मापदंड को पूरा करना होगा

नई दिल्ली (भाषा)। देश के कई स्थानों पर शिक्षा में जाति, लिंग, वर्ग, अशक्तता, धर्म आदि के आधार पर भेदभाव की घटनाओं के बीच शिक्षा की वर्तमान व्यवस्था में सुधार की जरूरत को रेखांकित करते हुए एनसीईआरटी की ‘स्कूल फार ऑल’ योजना का खाका तैयार किया गया है। एनसीईआरटी की विशेष जरूरतों वाले समूह की शिक्षा से संबंधित विभाग के तहत तैयार ‘समावेशी स्कूल का विकास’ रिपोर्ट में ‘स्कूल फार ऑल’ ( सभी के लिए स्कूल) का खाका पेश किया गया है। रिपोर्ट के अनुसार, ‘सभी के लिए स्कूल’ अवधारणा के तहत समावेशी स्कूल को कुछ मापदंड को पूरा करना चाहिए। यह देखना महत्वपूर्ण होगा कि स्कूल ने दृष्टिपत्र तैयार करके इसे समुदाय के साथ साझा किया है या नहीं। स्कूल का दृष्टिपत्र, समझ, मिशन और लक्ष्य समुदाय के कितने अनुरूप हैं। स्कूल के दृष्टिपत्र को छात्रों की विभिन्नताओं को स्वीकार करना और उन्हें महत्व देना चाहिए। स्कूल में गरीब परिवार के बच्चों को सहयोग करने की नीति और कार्यक्रम तैयार करना चाहिए। शिक्षकों, समुदायों, अभिभावकों को स्कूल के समावेशी शिक्षा की नीति में विास होना चाहिए। एनसीईआरटी का कहना है कि आजादी के बाद से देश के 10 लाख स्कूलों में करीब 55 लाख शिक्षक 2,025 लाख छात्रों को पढ़ाते हैं। 80 प्रतिशत आबादी में करीब एक किलोमीटर के दायरे में प्राथमिक स्कूल है। लेकिन इसके बाद भी प्राथमिक स्तर पर करीब आधे बच्चों के बीच में ही पढ़ाई छोड़ने की बात सामने आई है।

खबर साभार : राष्ट्रीय सहारा




Enter Your E-MAIL for Free Updates :   

Liabilty Disclaimer

डिस्क्लेमर : यह न्यूज चैनल (ब्लॉग) पूर्णतयः अव्यावसायिक, अलाभकारी और पूर्णतः शिक्षक हित के लिए बिना लाभ और बिना हानि के आधार पर समर्पित है। इसमें प्रयुक्त सामग्री, सूचना, चित्र, आदेश आदि समाचार पत्रों, सरकारी साइटों, पब्लिक प्रोफाइल आदि कई स्त्रोतों से ली जाती हैं। हम ऐसे सभी स्त्रोतों के प्रति अपना आभार-साभार और कृतज्ञता व्यक्त करते हैं। हमारी कोशिश रहती है कि सूचना के सही स्त्रोत का उल्लेख किया जाए और साथ ही साथ वह सूचना/आदेश प्रत्येक दशा में सही हो। फिर भी यदि किसी को कोई आपत्ति हो तो वह पूर्ण वर्णन करते हुए संचालक को सूचित करे। आपत्ति की पुष्टि होते ही वह सूचना आदि हटा दी जायेगी। सभी से अनुरोध है कि किसी आदेश /सूचना को प्रयोग करने से पहले उसकी सत्यता स्वयं जांच लें। किसी भी अन्य स्थिति और परिस्थिति की दशा में यह ब्लॉग जिम्मेदार ना होगा। ब्लॉग मे किसी भी सामग्री पर हमारा वाटर-मार्क किसी भी रूप से हमारा मालिकाना हक जताना नहीं है बल्कि यह पुष्टि करना है कि दर्शाई /प्रयुक्त की गई सामग्री / जानकारी / खबर वास्तव मे उसी स्त्रोत से ली गई है और इसकी पुष्टि यह ब्लॉग / प्राइमरी का मास्टर करता है।

LIABILITY DISCLAIMER: It is non-govt. site. Authenticity of information is not guarantied. You are therefore requested to verify this information before you act upon it. Publisher of the site will not be liable for any direct or indirect loss arising from the use of the information and the material contained in this Web Site/Blog/News-Channel.