आखिरकार 1056 प्रशिक्षु शिक्षकों की मौलिक नियुक्ति का आदेश, इसी के साथ बीते 23 मार्च से नियुक्तियों पर लगी रोक भी वापस

इलाहाबाद : आखिरकार बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में 1056 प्रशिक्षु शिक्षकों को सहायक अध्यापक पद पर मौलिक नियुक्ति के आदेश मंगलवार को जारी हो गए। परिषद सचिव संजय सिन्हा ने बेसिक शिक्षा अधिकारियों को 15 दिन के अंदर नियुक्ति पत्र जारी करने के निर्देश दिए हैं। इस आदेश के साथ ही परिषद में बीते 23 मार्च से नियुक्तियों पर लगी रोक भी वापस हो गई है।



क्लिक करके देखें आदेश:
प्रशिक्षु शिक्षक चयन-2011 अष्टम बैच के छः माह का प्रशिक्षण उत्तीर्ण प्रशिक्षु शिक्षकों को मौलिक नियुक्ति के संबंध में आदेश जारी



प्रशिक्षु शिक्षक चयन 2011 के आठवें बैच के 1056 शिक्षकों को नियुक्ति पत्र एक पखवारे में मिल जाएगा, लेकिन उन्हें कार्यभार ग्रहण करने के लिए स्कूल खुलने का इंतजार करना पड़ेगा। इस समय परिषदीय स्कूलों में गर्मी की छुट्टियां चल रही हैं कार्यभार ग्रहण कराने की कार्रवाई स्कूल खुलने पर ही कराई जाएगी। दरअसल सुप्रीम कोर्ट के सात दिसंबर 2015 के आदेश पर प्रशिक्षु शिक्षकों को सहायक अध्यापकों के रूप में मौलिक नियुक्ति दी जा रही है। उसी क्रम में आठवें बैच में प्रशिक्षण पाने वाले 1056 प्रशिक्षु शिक्षकों ने छह अप्रैल को सेमेस्टर परीक्षा उत्तीर्ण की थी। उसके बाद से ही प्रशिक्षु शिक्षक मौलिक नियुक्ति देने की मांग कर रहे थे, लेकिन भर्तियों पर रोक के कारण मौलिक नियुक्ति का आदेश जारी नहीं हो पा रहा था।




दो प्रशिक्षुओं ने बीते 15 मई से शिक्षा निदेशालय में बेसिक शिक्षा परिषद कार्यालय के बाहर आमरण अनशन शुरू कर दिया था। सेहत बिगड़ने पर जिला प्रशासन ने 20 मई को दोनों अनशनकारियों को अस्पताल में भर्ती करा दिया था। मंगलवार को मौलिक नियुक्ति का आदेश जारी होने के बाद से प्रशिक्षु शिक्षकों में खुशी की लहर है।

आखिरकार 1056 प्रशिक्षु शिक्षकों की मौलिक नियुक्ति का आदेश, इसी के साथ बीते 23 मार्च से नियुक्तियों पर लगी रोक भी वापस Reviewed by Sona Trivedi on 7:04 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.