नीति आयोग ने कहा सभी स्तर की कक्षाओं में अनिवार्य हो टेस्ट : स्कूलों में शिक्षकों की अनुपस्थिति पर जताई चिंता

लखनऊ : नीति आयोग ने उप्र के स्कूलों में शिक्षकों की अनुपस्थिति पर चिंता जताई है। आयोग ने सभी स्तर की कक्षाओं में ‘टेस्ट’ को अनिवार्य करने की सलाह दी। नीति आयोग के उपाध्यक्ष डॉ. अरविंद पनगढ़िया ने कहा कि उप्र पिछले कुछ वर्षो में विकास की दौड़ में पिछड़ गया था लेकिन, अब योगी आदित्यनाथ की अगुवाई में विकास के पथ पर तेजी से बढ़ रहा है। 50 दिन में यह दिखने लगा है।


अरविंद ने कहा कि किसानों की भलाई के लिए कृषि में सुधारों की आवश्यकता है। ईज आफ डूइंग बिजनेस के लिए उप्र में औद्योगिक नीति बढ़ानी होगी, ताकि प्रदेश की ओर घरेलू तथा विदेशी निवेशक आकर्षित हों। शिक्षा के क्षेत्र में बहुत सुधार की आवश्यकता पर बल देते हुए उन्होंने फाउंडेशनल लर्निग पर फोकस करने की आवश्यकता को रेखांकित किया। उन्होंने स्वास्थ्य, स्वच्छ भारत मिशन, पेयजल व्यवस्था इत्यादि पर भी अपने विचार व्यक्त किए।


अरविन्द ने ट्रांसफार्मिग उत्तर प्रदेश शीर्षक के तहत विस्तार से विभिन्न बिंदुओं पर तुलनात्मक आंकड़े प्रस्तुत करते हुए राज्य सरकार को आवश्यक कदम उठाने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि यदि राज्य सरकार नौ फीसद की वृद्धि दर भी प्राप्त कर ले तो प्रदेश की आर्थिक स्थिति में गुणात्मक सुधार हो जाएगा।

नीति आयोग ने कहा सभी स्तर की कक्षाओं में अनिवार्य हो टेस्ट : स्कूलों में शिक्षकों की अनुपस्थिति पर जताई चिंता Reviewed by Sona Trivedi on 6:27 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.