डीएलएड 2019 : पहले चरण का प्रवेश पूरा, 90 हजार सीटें अब भी खाली, निजी कॉलेजों की अधिकांश सीटें खाली


डीएलएड 2019 : पहले चरण का प्रवेश पूरा, 90 हजार सीटें अब भी खाली, निजी कॉलेजों की अधिकांश सीटें खाली।  







पहले चरण का प्रवेश पूरा 90 हजार सीटें खाली
August 01, 2019    
राज्य ब्यूरो, प्रयागराज: प्राथमिक स्कूलों में शिक्षक बनने के लिए दो वर्षीय पाठ्यक्रम डीएलएड (डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजूकेशन) 2019 में प्रवेश का पहला चरण पूरा हो गया है। सरकारी व निजी कालेजों में सभी सीटें भर नहीं सकी है, करीब 90 हजार से अधिक सीटें खाली हैं, क्योंकि निजी कॉलेजों में प्रवेश के लिए अभ्यर्थी रुचि नहीं दिखा रहे हैं। अब दूसरे चरण की काउंसिलिंग 16 अगस्त से होगी। साथ ही प्रशिक्षण छह अगस्त से शुरू हो जाएगा।
परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय ने डीएलएड प्रवेश के लिए 2,50,000 रैंक तक के अभ्यर्थियों को कालेज आवंटित किया है। दावा है कि पहले चरण में 1,38,442 सीटों पर अभ्यर्थी प्रवेश लेंगे। इनमें 67 डायटों में 10600 सीटें थी, उनमें से 10,032 सीटें आवंटित हुई हैं, जबकि 568 सीटें अभी खाली हैं। ये विशेष आरक्षित वर्ग की सीटें हैं।

वहीं 3087 निजी कालेजों में 2,18, 550 सीटें थीं। उनमें 1,28,410 ही आवंटित हो सकी हैं। 90,140 सीटें अब भी खाली हैं। सचिव अनिल भूषण चतुर्वेदी ने बताया कि पहले चरण में जिन अभ्यर्थियों को मनपसंद कालेज आवंटित हो गया है वे चार अगस्त की शाम पांच बजे तक अनिवार्य रूप से प्रवेश ले लें। उनका प्रशिक्षण प्रदेश भर में एक साथ छह अगस्त से शुरू किया जाएगा।


डीएलएड 2019 : पहले चरण का प्रवेश पूरा, 90 हजार सीटें अब भी खाली, निजी कॉलेजों की अधिकांश सीटें खाली Reviewed by प्राइमरी का मास्टर on 7:06 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.