यूपीटीईटी में आवेदन की रफ्तार धीमी, चार दिनों में महज एक लाख 20 हजार ने पंजीकरण कराया, परीक्षा की तिथि घोषित होने चलते नहीं बढ़ेगी मियाद

■  शिक्षामित्रों के अभी टीईटी से राहत मिलने की उम्मीद लगाए रखने से आवेदनों ने नहीं पकड़ी रफ्तार

■ यूपीटीईटी में आवेदन की रफ्तार धीमी, चार दिनों में महज एक लाख 20 हजार ने पंजीकरण कराया,  परीक्षा की तिथि घोषित होने चलते नहीं बढ़ेगी मियाद

इलाहाबाद : उत्तर प्रदेश की शिक्षक पात्रता परीक्षा यानी टीईटी 2017 में आवेदन की रफ्तार अभी काफी धीमी है। चार दिनों में महज एक लाख 20 हजार ने पंजीकरण कराया है। इसकी वजह यह भी बताई जा रही है तमाम शिक्षामित्र सरकार से टीईटी में बड़ी राहत मिलने की उम्मीद लगाए हैं और आवेदन नहीं कर रहे हैं। परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय की ओर से ऐसे संकेत हैं कि इस बार आवेदन की समय सीमा बढ़ाई नहीं जाएगी, क्योंकि परीक्षा की तारीख पहले घोषित हो चुकी है।

आवेदन व परीक्षा तैयारी के बीच समय काफी कम है। टीईटी 2017 के लिए बीते 25 अगस्त को दोपहर बाद से ऑनलाइन पंजीकरण व आवेदन का कार्य शुरू हो गया है। सोमवार की शाम तक महज 70 हजार पंजीकरण हुए थे, जो मंगलवार को बढ़कर एक लाख बीस हजार हुए हैं। परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय इस बार करीब दस लाख आवेदन होने की उम्मीद लगाए है उस लिहाज से पंजीकरण व आवेदन की गति बेहद धीमी है। हालांकि आवेदन करने की अंतिम तारीख 13 सितंबर है। परीक्षा नियामक कार्यालय की ओर से कहा गया है कि टीईटी में समय सीमा बढ़ाने की इस बार गुंजाइश नहीं है इसलिए अभ्यर्थियों को समय रहते आवेदन पूरा करना चाहिए।

यूपीटीईटी में आवेदन की रफ्तार धीमी, चार दिनों में महज एक लाख 20 हजार ने पंजीकरण कराया, परीक्षा की तिथि घोषित होने चलते नहीं बढ़ेगी मियाद Reviewed by Sona Trivedi on 6:01 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.