स्कूल वाहन चालकों के स्मार्ट फोन रखने पर रोक, सभी बोर्डो के लिए आदेश जारी, मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने स्कूल बस और वैन चालकों के स्मार्ट फोन रखने पर रोक लगाई


■ हादसों को देख मानव संसाधन विकास मंत्रलय ने उठाए कदम

■ चालक के पास एंड्रायड फोन मिला तो डीएल होगा निरस्त

मुरादाबाद: घर से निकलने के बाद स्कूल जाते समय बच्चे की हर अभिभावक को रहती है। स्मार्ट फोन अब अधिकतर लोगों की पहुंच में हैं। स्कूल बस और वैन चालक भी इसका भरपूर इस्तेमाल करते हैं। चलाते समय फोन पर गाने सुनते हैं और वीडियो भी देखते हैं। फोन से फोटो खींचकर बच्चों को ब्लैकमेल करने के भी कई मामले आए हैं। हालात देख मानव संसाधन विकास मंत्रलय ने स्कूल बस और वैन चालकों के एंड्रायड फोन रखने पर रोक लगा दी है। सीबीसीएसई, आइसीएसई, यूपी बोर्ड समेत सभी प्रोफेशनल कालेजों के चालकों के पास एंड्रायड फोन मिला तो ड्राइविंग लाइसेंस निरस्त कर दिया जाएगा।

मंत्रलय द्वारा जारी आदेशों में कहा गया है कि स्कूली वाहन के चालक के पास साधारण फोन ही काफी है। एंड्रायड फोन होने से कान में ईयर फोन लगाकर बस व वैन को चलाने से हादसे संभव हैं। स्कूल के ट्रांसपोर्ट अधिकारी को अधिकार दिया गया है कि वह इसकी जांच कर सकेगा। आरटीओ और प्रशासनिक अधिकारी भी जांच करेंगे। चालक पकड़ा जाता है तो उसका लाइसेंस निरस्त होगा। भविष्य में बन भी नहीं पाएगा।

ऐसे सतर्क रहें बच्चे : बच्चे या कोई अन्य चालक को स्मार्ट फोन प्रयोग करते देखें तो स्कूल व अभिभावकों को बताएं। अभिभावक भी चालक की गतिविधियों पर नजर रखें। स्कूल बस में छात्राएं हैं तो वह ध्यान रखें कि चालक वीडियो तो नहीं बना रहा है।

स्कूल वाहन चालकों के स्मार्ट फोन रखने पर रोक, सभी बोर्डो के लिए आदेश जारी, मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने स्कूल बस और वैन चालकों के स्मार्ट फोन रखने पर रोक लगाई Reviewed by Sona Trivedi on 6:20 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.