बीटीसी पेपर लीक मामले में एक हिरासत में, दो के मोबाइल चेक, आधा दर्जन के मोबाइल सर्विलांस पर लगाकर की जा रही जांच

बीटीसी पेपर लीक मामले में एक हिरासत में, दो के मोबाइल जब्त

कौशांबी : बीटीसी 2015 चतुर्थ सेमेस्टर पेपर लीक मामले में क्राइम ब्रांच की टीम ने ओसा स्थित एक कॉलेज के तीन कर्मचारियों से पूछताछ के बाद दो के मोबाइल जब्त कर लिए। इसके अलावा रायबरेली से एक युवक को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। पुलिस की जांच इस पर भी टिकी है कि मोबाइल पर पेपर लीक होने से दो दिन पहले और उसके बाद किन लोगों की बात हुई है। साथ ही शिक्षा विभाग व अन्य संदिग्ध लग रहे करीब आधा दर्जन लोगों के मोबाइल सर्विलांस पर लगाकर जांच की जा रही है। फिलहाल पुलिस अधिकारी किसी को गैर जनपद से उठाने की बात से इन्कार कर रहे हैं। क्राइम ब्रांच के इंस्पेक्टर पवन त्रिवेदी ने बताया कि मामले को लेकर अभी पड़ताल हो रही है।

एसटीएफ के रडार पर आए प्रिंटिंग प्रेस कर्मचारी
इलाहाबाद : बीटीसी पेपर लीक मामले में एसटीएफ ने प्रिंटिंग प्रेस के कर्मचारियों के नाम, मोबाइल नंबर और पते मांगे हैं। इनके वाट्सएप चेक करने के साथ कॉल डिटेल रिपोर्ट भी निकलवाई जाएगी। एंड्रायड फोन प्रयोग करने वालों पर एसटीएफ को शक ज्यादा है। कर्नलगंज निवासी दीप्ति इंटरप्राइजेज के आशीष अग्रवाल और बाई का बाग कीडगंज निवासी भार्गव प्रेस के मालिक अरविंद भार्गव को इस मामले में गिरफ्तार किया जा चुका है। पेपर की प्रिंटिंग भार्गव प्रेस में हुई थी, लिहाजा उनके कर्मचारियों की भूमिका संदिग्ध पाई गई है। एसटीएफ को पता चला है कि प्रेस में सामान्य दस्तावेज की तरह गोपनीय प्रश्नपत्र की छपाई हुई और कंप्यूटर में भी यूएसबी पोर्ट लगा था, जिससे कोई भी पेपर चुरा सकता है। सीओ एसटीएफ नवेंदु कुमार का कहना है कि जल्द ही कर्मचारियों से पूछताछ की जाएगी।

बीटीसी पेपर लीक मामले में एक हिरासत में, दो के मोबाइल चेक, आधा दर्जन के मोबाइल सर्विलांस पर लगाकर की जा रही जांच Reviewed by Brijesh Shrivastava on 9:25 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.