प्रदेश में विवादित डिग्री पर 4 हजार उर्दू शिक्षकों की भर्ती की तैयारी, विवादित डिग्री को लेकर हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच में कई याचिकाएं पहले से हैं दायर

इलाहाबाद : बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में उर्दू विषय के चार हजार सहायक अध्यापकों की भर्ती विवादित डिग्री पर होने जा रही है। 30 दिसंबर से इसकाऑनलाइन रजिस्ट्रेशन शुरू होगा। इस भर्ती के लिए जामिया उर्दू अलीगढ़ की मोअल्लिम-ए-उर्दू को भी मान्य किया गया है।



11 अगस्त 1997 से पहले मोअल्लिम-ए-उर्दू की उपाधि हासिल करने वाले अभ्यर्थियों से भी आवेदन मांगे जा रहे हैं। सरकार ने इस उपाधि को बीटीसी के समकक्ष मान्यता दी है। यही नहीं इससे पहले उर्दू भाषा के 4280 और 3500 सहायक अध्यापकों की भर्ती में भी इसे शामिल किया गया था। लेकिन इस डिग्री को लेकर हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच में कई याचिकाएं दायर हैं। हाईकोर्ट ने 2 मई 2014 को इस मामले की जांच डीएम अलीगढ़ को सौंपी थी।



तलत शाहीन एवं एक अन्य की ओर से दायर याचिका की 13 दिसंबर 2016 को हुई सुनवाई में हाईकोर्ट को बताया गया कि जांच पूरी हो चुकी और इस पर निर्णय के लिए राज्य सरकार को भेजा गया है। इस विवाद को लेकर कोई फैसला नहीं हुआ और सरकार ने नई भर्ती शुरू कर दी। सबसे आश्चर्य की बात बात यह है कि हर भर्ती में 11 अगस्त 1997 के पूर्व मोअल्लिम-ए-उर्दू किए सैकड़ों की संख्या में अभ्यर्थी सामने आ जाते हैं।

प्रदेश में विवादित डिग्री पर 4 हजार उर्दू शिक्षकों की भर्ती की तैयारी, विवादित डिग्री को लेकर हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच में कई याचिकाएं पहले से हैं दायर Reviewed by Praveen Trivedi on 9:03 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.