अल्पसंख्यक डीएलएड (बीटीसी) संस्थान 50 फीसद सीटों पर करें प्रवेश, डायट प्राचार्यों व संस्था प्रबंधकों को पत्र जारी कर प्रवेश प्रक्रिया जारी करने के निर्देश

इलाहाबाद : डीएलएड (पूर्व बीटीसी) 2017 के लिए वह निजी कालेज जिन्हें अल्पसंख्यक संस्थान का दर्जा मिला है में प्रवेश प्रक्रिया शुरू करने का निर्देश जारी हो गया है। ऐसे संस्थानों को 50 फीसद सीटों पर अभ्यर्थियों को खुद प्रवेश देना है। यह कार्य हर हाल में 10 नवंबर तक पूरा करने को कहा गया है।

परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव डा. सुत्ता सिंह ने जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान यानी डायट प्राचार्य व संस्थानों के प्रबंधक को पत्र जारी कर दिया है। डीएलएड 2017 के दो वर्षीय प्रशिक्षण सत्र के लिए इन दिनों प्रवेश प्रक्रिया चल रही है। इस बार ऑनलाइन काउंसिलिंग के जरिए अभ्यर्थियों को कालेज आवंटित किए गए हैं। इसके दो चरण पूरे हो चुके हैं और तीसरे चरण के लिए विकल्प भरवाए जा रहे हैं। इसका कालेज आवंटन भी 25 अक्टूबर को होगा।

परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव ने बताया कि यह प्रशिक्षण सत्र 12 अक्टूबर से शुरू हो चुका है आगे जो भी प्रवेश होंगे, उनके सत्र की शुरुआत 12 अक्टूबर ही मानी जाएगी। प्रदेश में डीएलएड के ऐसे तमाम निजी कालेज हैं, जिन्हें अल्पसंख्यक संस्थान का दर्जा मिला है। इन संस्थानों को निर्देश है कि वह अपने यहां आवंटित कुल सीटों में से पचास फीसद सीटें खुद भरेंगे।

सचिव ने बताया कि जिन संस्थानों को राष्ट्रीय अल्पसंख्यक शैक्षणिक संस्था आयोग नई दिल्ली से अल्पसंख्यक संस्था का प्रमाणपत्र प्राप्त है की पचास फीसदी सीटों पर अभ्यर्थियों का आवंटन द्वितीय चरण में किया गया है। बाकी 50 फीसद सीटों पर ऐसे संस्थान 10 नवंबर तक राज्य रैंक की सूची से अनिवार्य रूप से अभ्यर्थियों को प्रवेश दें। संस्थान इसकी सूचना अपने जिले के डायट प्राचार्य और परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव को भी उपलब्ध कराएं। तैयारी है कि तीसरे चरण में अन्य संस्थानों की सारी सीटें भर ली जाएंगी।

अल्पसंख्यक डीएलएड (बीटीसी) संस्थान 50 फीसद सीटों पर करें प्रवेश, डायट प्राचार्यों व संस्था प्रबंधकों को पत्र जारी कर प्रवेश प्रक्रिया जारी करने के निर्देश Reviewed by Sona Trivedi on 5:21 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.