2019 के सत्र से एनसीईआरटी का पाठ्यक्रम होगा आधा, छात्रों को राहत देने और शिक्षा में मूलभूत सुधार को लेकर केंद्र सरकार की नई कोशिश

नई दिल्ली : स्कूली छात्रों को राहत देने और शिक्षा में मूलभूत सुधार को लेकर केंद्र सरकार नई कोशिश करने जा रही है। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने एनसीईआरटी का पाठ्यक्रम (सिलेबस) घटाकर आधा करने का फैसला किया है।


जावड़ेकर ने कहा कि स्कूली छात्रों को राहत दिलाने के लिए नया पाठ्यक्रम एनसीईआरटी के 2019 के शैक्षणिक सत्र से शुरू किया जाएगा। फिलहाल स्कूल का पाठ्यक्रम बीए और बी.कॉम के कोर्स से भी ज्यादा है और इसे कम कर के आधा किए जाने की जरूरत है जिससे सवार्ंगीण विकास के लिए छात्रों को समय मिल सके।


राज्यसभा टीवी को दिए एक इंटरव्यू में शनिवार को केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर ने कहा कि संसद में बजट सत्र के आगामी हिस्से में इससे जुड़े एक विधेयक पर विचार किया जाएगा। उन्होंने बताया कि ज्ञान संबंधी कौशल के विकास के चरण में छात्रों को पूर्ण स्वायत्तता देने की जरूरत है। स्कूली शिक्षा में सुधार के बारे में मंत्री ने कहा कि परीक्षा और अगली कक्षा में नहीं भेजे जाने (यानी फेल करने) की प्रक्रिया लागू होगी। बिना परीक्षा, कोई प्रतिस्पर्धा और लक्ष्य नहीं रहता।

2019 के सत्र से एनसीईआरटी का पाठ्यक्रम होगा आधा, छात्रों को राहत देने और शिक्षा में मूलभूत सुधार को लेकर केंद्र सरकार की नई कोशिश Reviewed by प्राइमरी का मास्टर on 7:11 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.