डायट्स का कायाकल्प करने की तैयारी : 35 डायट्स में ऑडिटोरियम और स्मार्ट क्लासरूम, एससीईआरटी का उम्दा शिक्षक तैयार करने पर जोर

इलाहाबाद : प्रदेश भर के जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान यानि डायट्स का कायाकल्प करने की तैयारी है। इस वर्ष 35 डायट्स में ऑडिटोरियम व स्मार्ट क्लासरूम सहित कई अन्य सुविधाएं मुहैया कराने की सरकार से स्वीकृति मिल गई है। नए भवन निर्माण की जरूरत होगी। एससीईआरटी ने प्रस्ताव मांगा है कि अब नया भवन कहां बनाया जाएगा।


राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद उप्र यानी एससीईआरटी का जोर उम्दा शिक्षक तैयार करने पर है। निदेशक संजय सिन्हा ने बताया कि इस बार की वार्षिक कार्ययोजना में 35 डायट्स को चुना गया है। वहां ऑडिटोरियम, तीन कक्षा कक्ष जिसमें एक स्मार्ट क्लास रूम तैयार कराया जाएगा। टॉयलेट ब्लाक व हॉस्टल का भी विस्तार होगा।

डायट्स की अन्य गतिविधियों के लिए प्रति डायट 30 लाख रुपये स्वीकृत हुए हैं। छह लाख बीस हजार रुपये हर डायट की टेक्नोलॉजी सपोर्ट पर खर्च होंगे। प्रशिक्षुओं को बेहतर प्रशिक्षण तभी मिलेगा जब शिक्षक, भवन व अन्य सुविधाएं उन्हें मिलें।



इस वर्ष से डीएलएड के अभ्यर्थियों की सेमेस्टर परीक्षा की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन डायट्स पर ही कराया जा रहा है। डायटों पर शिक्षकों की कमी है, ऐसे में जिस तरह से पढ़ाने के लिए आउटसोर्सिग की योजना बनी है, उसी तरह से मूल्यांकन कार्य में भी अब अन्य संस्थाओं का सहयोग लिया जाएगा। राजकीय पालीटेक्निक व महाविद्यालय के शिक्षक लगाए जाएंगे। साथ ही निजी संस्थानों के संकाय सदस्यों को भी प्रशिक्षित करके मूल्यांकन में सहयोग लिया जाएगा। मूल्यांकन के संबंध में सुझाव व उपाय परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव इलाहाबाद उप्र की ओर से उपलब्ध कराया जाएगा।


■ माध्यमिक शिक्षकों का बने रिसोर्स पूल
एससीईआरटी निदेशक ने डायट प्राचार्यो को निर्देश दिया है वह अपने जिले के माध्यमिक कालेजों में विषयों के अच्छे शिक्षकों को रिसोर्स पूल बनाएं। इस वर्ष माध्यमिक कालेजों के शिक्षकों का भी प्रशिक्षण कराया जाना है। उस समय यह रिसोर्स पूल काफी मददगार होगा।

डायट्स का कायाकल्प करने की तैयारी : 35 डायट्स में ऑडिटोरियम और स्मार्ट क्लासरूम, एससीईआरटी का उम्दा शिक्षक तैयार करने पर जोर Reviewed by प्राइमरी का मास्टर on 7:31 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.