बीटीसी 2015 : पेपर लीक होने की घटना न होने के मद्देनजर उठाया जा रहा है कदम, कोषागार में रखे जाएंगे बीटीसी के प्रश्नपत्र


राज्य ब्यूरो, इलाहाबाद : बीटीसी प्रशिक्षण परीक्षा के प्रश्नपत्र अब प्रतियोगी परीक्षाओं की तरह कोषागार में रखे जाएंगे। हर दिन वहीं से संबंधित परीक्षा केंद्रों को भेजे जाएंगे। परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव अनिल भूषण चतुर्वेदी ने कहा है कि यह कदम दोबारा पेपर लीक की घटना न होने के मद्देनजर उठाया जा रहा है। बीटीसी वर्ष 2015 चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षा बीते आठ, नौ व दस अक्टूबर को होनी थी लेकिन, उसके पहले ही प्रश्नपत्र लीक हो गया। इस मामले का खुलासा भी हो चुका है, पेपर संबंधित एजेंसी से ही आउट हुआ था। अफसरों को एजेंसी और परीक्षा नियामक कार्यालय पर ही शक रहा है। अब निर्णय लिया कि एससीईआरटी के निर्देश पर राजकीय व अशासकीय माध्यमिक कालेजों में ही होगी। अफसरों के अनुसार पेपर लीक होने में परीक्षा केंद्र का एकाएक बदलना भी बड़ा कारण रहा है, क्योंकि डायट व निजी कालेज प्रशिक्षुओं की मददगार बनते हैं, परीक्षा दूसरे केंद्र पर होने से सख्ती होने का पूरा अंदेशा था। 


परीक्षा नियामक दो एजेंसियां संदिग्ध : 68500 सहायक अध्यापक भर्ती की लिखित परीक्षा कराने वाली एजेंसी पहले ही काली सूची में डाली जा चुकी है, क्योंकि कई कॉपियां गुम और गलत कोड डालने से उत्तर पुस्तिकाएं बदल गई थी। अब बीटीसी प्रश्नपत्र तैयार करने वाली एजेंसी का नाम पेपर आउट होने के मामले में आने से दोनों संदिग्ध हो गई हैं।

बीटीसी 2015 : पेपर लीक होने की घटना न होने के मद्देनजर उठाया जा रहा है कदम, कोषागार में रखे जाएंगे बीटीसी के प्रश्नपत्र Reviewed by Ram Krishna mishra on 5:16 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.