839 याचिकाकर्ताओं को मिलने लगी नियुक्ति, भर्ती प्रक्रिया के पांच साल बाद मिला नियुक्ति पत्र

बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में 72,825 प्रशिक्षु शिक्षक भर्ती के लिए सुप्रीम कोर्ट में याची 841 अभ्यर्थियों की सहायक अध्यापक पद पर तदर्थ नियुक्ति मिलने लगी है। इलाहाबाद में ही छह माह का प्रशिक्षण प्राप्त 45 प्रशिक्षुओं को औपबंधिक नियुक्ति का आदेश बीएसए हरिकेश यादव ने मंगलवार को जारी कर दिया।




इन अभ्यथियों ने छह महीने का प्रशिक्षण पूरा किया था और 5 अक्तूबर 2016 को जारी सेमेस्टर परीक्षा के परिणाम में सफल थे लेकिन सहायक अध्यापक के पद पर नियुक्ति नहीं हो रही थी। चार जनवरी को विधानसभा चुनाव की अधिसूचना जारी होने से एक दिन पहले प्रमुख सचिव बेसिक अजय कुमार सिंह ने सभी 841 प्रशिक्षुओं को औपबंधिक नियुक्ति देने के आदेश दिए थे।




लेकिन अधिसूचना लागू होने के बाद बेसिक शिक्षा अधिकारियों ने नियुक्ति देने से इनकार कर दिया। इसके बाद इन प्रशिक्षुओं ने याचिका कर दी तो हाईकोर्ट ने 16 फरवरी को नियुक्ति के आदेश दिए थे। इससे पहले सात दिसंबर 2015 को सुप्रीम कोर्ट में तकरीबन 1100 याचिकाकर्ताओं के अधिवक्ताओं ने याचिकाकर्ताओं के समायोजन के लिए कुछ व्यवस्था करने का अनुरोध किया था। महाधिवक्ता  विजय  बहादुर सिंह ने कहा था कि राज्य सरकार को कोई आपत्ति नहीं है। इसके बाद इन याचिकाकर्ताओं से प्रत्यावेदन लेकर छह महीने का प्रशिक्षण कराया गया।




⚫  कई जिलों में बंट चुका नियुक्ति पत्र
839 याचिकाकर्ताओं को कई जिलों में नियुक्ति पत्र बंट चुका है जबकि कई जिलों में प्रक्रिया चल रही है। इलाहाबाद के अलावा वाराणसी, हाथरस, बलिया, गाजीपुर में नियुक्ति पत्र मिल चुका है। प्रतापगढ़, मऊ, अम्बेडकरनगर, बलिया, आजमगढ़ आदि में प्रक्रिया चल रही है।




एक-दूसरे को मिठाई खिलाकर बांटी खुशियां
इलाहाबाद। 30 नवंबर 2011 को शुरू हुई 72,825 प्रशिक्षु शिक्षक भर्ती प्रक्रिया के पांच साल बाद नियुक्ति पत्र मिला तो बेरोजगारों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। अशोक द्विवेदी, संदीप कुमार पांडेय आदि ने एक-दूसरे को मिठाई खिलाकर खुशियां बांटी।

839 याचिकाकर्ताओं को मिलने लगी नियुक्ति, भर्ती प्रक्रिया के पांच साल बाद मिला नियुक्ति पत्र Reviewed by Sona Trivedi on 6:52 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.