एक सितंबर से डायटों में चलेंगी टीईटी की कक्षाएं, यूपीटेट का रिजल्ट सुधारने की कवायद, संख्या बढ़ने पर डायट के साथ साथ बीआरसी में भी कक्षाएं चलाने का निर्देश

 इलाहाबाद  : उप्र शिक्षक पात्रता परीक्षा यानी यूपी टीईटी का रिजल्ट लगातार गिर रहा है। इसमें सुधार लाने के लिए अब जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान यानी डायट मुख्यालयों पर टीईटी 2017 की तैयारी कराने के लिए कक्षाएं चलाने का निर्देश हुआ है। हर डायट पर कम से कम घंटे का मार्गदर्शी कार्यक्रम एक सितंबर से अनवरत चलेगा। जिन डायटों में अभ्यर्थियों की संख्या अधिक होगी, वहां बीआरसी केंद्रों पर भी यह कक्षाएं चलाने को कहा गया है। 



★ क्लिक करके देखें संबंधित आदेश :
■  उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (UPTET) 2017 के अभ्यर्थियों को परीक्षा की तैयारी हेतु डायट/बी0आर0सी0 पर अभिमुखीकरण कार्यक्रम संचालित करने के संबंध में आदेश जारी




राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद उप्र यानी एससीईआरटी के निदेशक डा. सर्वेद्र विक्रम बहादुर सिंह ने सभी डायट प्राचार्यो को निर्देश दिया है कि वह यूपी टीईटी 2017 के अभ्यर्थियों के लिए डायट में तैयारी कराने को मार्गदर्शी कक्षाएं चलाएं। इनका संचालन एक सितंबर से होगा। इसमें प्राथमिक व उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा के प्रश्नपत्रों में पूछे जाने वाले विषय खंडों से संबंधित विषय विशेषज्ञ से डायट में कम से कम एक घंटे का यूपी टीईटी अभिमुखीकरण कार्यक्रम संचालित होगा। इसमें परीक्षा में प्रतिभाग करने के इच्छुक बीटीसी अर्हताधारी पात्र अभ्यर्थियों टीईटी की तैयारी में सहायता के लिए विभिन्न विषय विशेषज्ञों के माध्यम से अभिमुखीकरण कराया जाए।



 यह भी निर्देश है कि जिन जिलों में अभ्यर्थियों की संख्या अधिक हो वहां पर बीआरसी केंद्रों पर भी यह कार्यक्रम चलाने की व्यवस्था की जाए। निदेशक ने यह भी निर्देश दिया है कि इस कार्यक्रम के कारण डीएलएड प्रशिक्षण की नियमित कक्षाएं बाधित नहीं होनी चाहिए। अभ्यर्थियों को तैयारी टीईटी 2017 के पाठ्यक्रम के अनुरूप कराई जाए। इसके लिए पहले की परीक्षाओं के प्रश्नपत्रों को नमूने के तौर पर प्रयोग किया जाए। यही नहीं प्रत्येक प्रश्नखंड के आधार पर एक सप्ताह तैयारी करने के बाद अभ्यर्थियों का टेस्ट भी लिया जाए। टेस्ट के आधार पर कठिनाई वाले स्थलों पर अतिरिक्त बल दिया जाए। 



यह कार्यक्रम अभ्यर्थियों के लिए पूरी तरह से ऐच्छिक व निश्शुल्क व अनावासीय होगा। ज्ञात हो कि टीईटी 2017 परीक्षा 15 अक्टूबर को प्रस्तावित है। पिछले दिनों शिक्षामित्रों ने सरकार से अनुरोध किया था कि उनकी तैयारी करवाने का भी प्रबंध किया जाए। उनकी मांग को देखते हुए सभी अभ्यर्थियों के लिए शासन के निर्देश पर एससीईआरटी ने डायटों को आदेश दिया है।


एक सितंबर से डायटों में चलेंगी टीईटी की कक्षाएं, यूपीटेट का रिजल्ट सुधारने की कवायद, संख्या बढ़ने पर डायट के साथ साथ बीआरसी में भी कक्षाएं चलाने का निर्देश Reviewed by Sona Trivedi on 4:34 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.