गोरखपुर -देवरिया ही नहीं कई अन्य जिलों में भी चल रहे इस्लामिया स्कूल, डीएम और बीएसए करवा रहे जांच

गोरखपुर -देवरिया ही नहीं कई अन्य जिलों में भी चल रहे इस्लामिया स्कूल, डीएम और बीएसए करवा रहे जांच।



लखनऊ : बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों को ‘इस्लामिया’ नाम जोड़कर नया कलेवर देने वाले स्कूल सिर्फ गोरखपुर-देवरिया ही नहीं पूरे प्रदेश में संचालित हैं। गोरखपुर और देवरिया जनपद में ऐसे स्कूल संचालित होने का मामला सामने आया है जहां प्राथमिक विद्यालय के आगे इस्लामिया शब्द जोड़कर मनमाने तौर पर अवकाश का दिन भी रविवार के स्थान पर शुक्रवार तय कर लिया गया। 



पड़ताल करने पर पता चला कि ऐसा सिर्फ एक-दो नहीं लगभग सभी जिलों में हो रहा है। ‘जागरण’ की पड़ताल में सुलतानपुर में ऐसे सात, बाराबंकी में चार, सीतापुर व हरदोई में तीन-तीन, फैजाबाद व श्रवस्ती में एक-एक स्कूल मिले जहां स्कूल के नाम के पहले या बाद में इस्लामिया लिखा है। गोरखपुर में भी एक और स्कूल ऐसा मिला है। 



सुलतानपुर में दूबेपुर ब्लॉक के मुस्लिम बहुल गांव बनकेपुर, फिरोजपुर कलां, कुड़वार ब्लॉक के धरावां व गंजेहड़ी, बल्दीराय के नंदौली, दोस्तपुर नगर पंचायत व कूड़ेभर ब्लाके के इटकौली में ये विद्यालय स्थित हैं। यहां रविवार की जगह शुक्रवार को अवकाश होता है। बाराबंकी में दरियाबाद, बनगवां, मोहल्ला गढ़ी, सतरिख में इस्लामिया नाम से स्कूल संचालित हैं। अब यहां डीएम उदयभानु के निर्देश पर बीएसए जांच कर रहे हैं, जिन्होंने बुधवार तक सभी संकुल प्रभारियों से ऐसे विद्यालयों की सूची देने को कहा है। श्रवस्ती जिला मुख्यालय भिनगा के उच्च प्राथमिक विद्यालय सत्तीचौरा की दीवार पर मोटे अक्षरों में इस्लामिया प्राथमिक विद्यालय भिनगा अंकित है।


गोरखपुर -देवरिया ही नहीं कई अन्य जिलों में भी चल रहे इस्लामिया स्कूल, डीएम और बीएसए करवा रहे जांच Reviewed by प्राइमरी का मास्टर on 6:30 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.