वर्षो से एक ही जगह जमे लिपिक इसी माह हटेंगे, निदेशालय में भी नहीं बदले जा सके थे पटल, लगातार मिल रही शिकायतों पर सरकार का रुख कड़ा

इलाहाबाद : शासन की नीति के तहत तबादले की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है, उस दौरान शिक्षा महकमे के प्रधान सहायक व अन्य का फेरबदल करने पर अफसर सहमत नहीं हो सके लेकिन, अब उन लिपिकों को हटाने की तैयारी है, जो लंबे समय से एक ही जगह तैनात हैं और उन पर आरोप लग रहे हैं। माना जा रहा है कि ऐसे कर्मचारियों को इसी माह इधर से उधर किया जाएगा।



शिक्षा महकमे के मंडल व जिला स्तरीय दफ्तरों में बड़ी संख्या में ऐसे कर्मचारी तैनात हैं, जो नियुक्ति पाने के बाद से एक ही पटल व सीट पर काबिज हैं। पिछले साल इन्हें हटाने का प्रयास हुआ लेकिन, विभागीय अफसरों ने आगे आकर उन्हें दोबारा उसी पद पर जाने का दबाव बनाया। इससे कई कर्मचारी तबादले से बच गये थे लेकिन, इधर लगातार शिक्षा निदेशालय और शासन को लिपिकों की तमाम शिकायतें मिल रही हैं। वहीं, कई लिपिक ऐसे भी हैं जो बीमारी व अन्य घरेलू वजहों से तबादला चाहते भी हैं। इसको लेकर गुरुवार को बैठक हो रही है।



⚫ निदेशालय में भी पटल नहीं बदले :
शासन व विभागीय मंत्री के कड़े निर्देशों के बाद भी इस सत्र में शिक्षा निदेशालय में प्रधान सहायक व अन्य का पटल परिवर्तन नहीं हो सका है। निर्देश था कि एक ही पटल पर तीन वर्ष से जमे कर्मी हटाए जाएं। ऐसे कर्मचारियों की यहां भरमार होने के बाद भी विभागीय अधिकारी उन्हें हटाने से बच रहे हैं।

वर्षो से एक ही जगह जमे लिपिक इसी माह हटेंगे, निदेशालय में भी नहीं बदले जा सके थे पटल, लगातार मिल रही शिकायतों पर सरकार का रुख कड़ा Reviewed by Sona Trivedi on 6:02 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.