अनुदेशकों के लिए अक्टूबर 2016 जबकि 12460 और 4000 शिक्षक भर्ती के लिए दिसम्बर 2016 में प्रक्रिया हुई थी शुरू, हजारों शिक्षकों व अनुदेशकों की भर्ती की कोई पूछ नहीं

लखनऊ में 15 मार्च को प्रदर्शन के दौरान बीटीसी अभ्यर्थियों पर लाठीचार्ज के बाद 12460 सहायक अध्यापकों की भर्ती प्रक्रिया तो मुख्यमंत्री की सख्ती के बाद शुरू हो गई है। लेकिन 12460 के साथ ही रोकी गई दो अन्य भर्तियों को पूछने वाला कोई नहीं दिख रहा। चार हजार उर्दू शिक्षकों की नियुक्ति के लिए प्रथम चरण की काउंसिलिंग 22 व 23 मार्च 2017 को हो चुकी थी। जबकि दूसरे चक्र की काउंसिलिंग 30 मार्च को होनी थी। इसी प्रकार उच्च प्राथमिक स्कूलों में 32022 अंशकालिक अनुदेशकों की भर्ती के लिए 4 से 9 अप्रैल 2017 तक काउंसिलिंग होनी थी। लेकिन पिछले साल 23 मार्च को 12460 सहायक अध्यापकों के साथ ही प्राथमिक विद्यालयों में चार हजार उर्दू शिक्षकों और 32022 अनुदेशकों की नियुक्ति प्रक्रिया रोक दी गई थी। अनुदेशकों के लिए अक्टूबर 2016 जबकि 12460 और 4000 शिक्षक भर्ती के लिए दिसम्बर 2016 में प्रक्रिया शुरू हुई थी।



अनुदेशकों के लिए अक्टूबर 2016 जबकि 12460 और 4000 शिक्षक भर्ती के लिए दिसम्बर 2016 में प्रक्रिया हुई थी शुरू, हजारों शिक्षकों व अनुदेशकों की भर्ती की कोई पूछ नहीं Reviewed by Ram Krishna mishra on 9:06 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.