शिक्षामित्रों ने समायोजित सहायक अध्यापकों के समान माँगा मानदेय, लक्ष्मण मेला मैदान में जुटे हजारों शिक्षामित्र, बुलंद की अपने मांगों के समर्थन में आवाज

शिक्षामित्रों ने अध्यापकों के समान मांगा मानदेय, लक्ष्मण मेला मैदान में जुटे हजारों शिक्षामित्र, बुलंद की आवाज


लखनऊ : प्रदेशभर से आए हजारों शिक्षामित्रों ने सोमवार को प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए विरोध प्रदर्शन किया। लक्ष्मण मेला मैदान में जुटे हजारों शिक्षामित्रों ने अपनी मांगों के लिए आवाज बुलंद की तो सरकार को चेतावनी भी दी। 



आदर्श शिक्षा सहायक वेलफेयर एसोसिएशन के बैनर तले धरने पर बैठे शिक्षामित्रों ने प्रदेश सरकार से समान कार्य, समान वेतन की नीति लागू करते हुए अभी तक समायोजित न होने वाले को सहायक अध्यापक के बराबर मानदेय देने की मांग पुरजोर मांग की। कहा कि सरकार जब तक उनकी मांग पूरी नहीं करेगी तब तक वह लखनऊ नहीं छोड़ेंगे। 



काफी संख्या में शिक्षा मित्रों के धरना स्थल पर जुटने के चलते पुलिस-प्रशासन भी सक्रिय और मुस्तैद रहा। शिक्षामित्रों को रोकने के लिए संकल्प वाटिका तिराहे के पास पुलिस ने बैरीकेडिंग भी कर रखी थी जिससे किसी भी प्रकार की स्थिति होने पर उससे आसानी से निपटा जा सके। धरने का नेतृत्व कर रहीं ज्योति वर्मा ने कहा कि प्रदेश में एक लाख बहत्तर हजार शिक्षामित्रों में से एक लाख अड़तीस हजार को प्राथमिक विद्यालयों में सहायक अध्यापक पद पर समायोजन किया जा चुका है। लेकिन 32 हजार शिक्षामित्रों का समायोजन उच्चतम न्यायालय में केस लंबित होने के कारण नहीं हो सका है। ऐसी दशा में इन शिक्षा मित्रों को सहायक अध्यापक के वेतन 35 हजार रुपये के समान मानदेय दिया जाए। जिससे शिक्षा मित्रों का जीवकोपार्जन सही ढंग से हो सके। 



शिक्षा मित्रों के धरने को संयुक्त सक्रिय टीम, दूरस्थ बीटीसी संघ व उप्र शिक्षा मित्र शिक्षक कल्याण समिति ने भी समर्थन किया। धरने में मुख्य रूप से सरिता यादव, सिद्धार्थ सिंह, आशीष पांडेय, राजकुमार मिश्र, देवेंद्र सिंह, अनिल यादव, अनिल वर्मा, दीनानाथ दीक्षित, संदीप वाजपेयी, अनुज वाजपेयी, प्रेमलता शुक्ला, मुलायम यादव सहित शिक्षा मित्र शामिल रहे। 



आज विधान भवन घेराव का एलान : आदर्श शिक्षा सहायक वेलफेयर एसोसिएशन की अध्यक्ष ज्योति वर्मा ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर मंगलवार को दोपहर 12 बजे तक शिक्षा मित्रों को सहायक अध्यापकों के समान मानदेय मिलने की घोषणा नहीं की गई तो हजारों शिक्षा मित्र दो बजे से विधान भवन का घेराव करेंगे। उन्होंने कहा कि मंगलवार को प्रदेशभर से कई हजार और शिक्षा मित्र राजधानी में आएंगे और विधान भवन का घेराव करेंगे।

शिक्षामित्रों ने समायोजित सहायक अध्यापकों के समान माँगा मानदेय, लक्ष्मण मेला मैदान में जुटे हजारों शिक्षामित्र, बुलंद की अपने मांगों के समर्थन में आवाज Reviewed by Praveen Trivedi on 7:20 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.